Jansandesh online hindi news

हिन्दू महापंचायत पर सुप्रीम रोक, हिन्दू सेना बोली हिन्दू को यह स्वीकार नहीं

 | 
Breakingnews

उत्तराखंड: हरिद्वार एक ऐसा धार्मिक स्थल जो हिंदुओं के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। यह आजकल धार्मिक स्थल कम हिंसा का ढेरा ज्यादा बन गया है। यहां आय दिन हिंसा का नया रूप देखने को मिलता है। कभी यहां से धर्म संसद में हुए भड़काऊ बयान तूल पकड़ते हैं तो कभी हुनमान जयंती पर हुई हिंसा। वही अब इन सबके बीच खबर आ रही है कि हरिद्वार में हुनमान जयंती के दिन हुई हिंसा मामले में पुलिस ने घटना स्थल से 11 लोगो को हिरासत में लिया है। 

वही अब कालीसेना ने हुनमान जयंती के दिन हुई शोभायात्रा में हुई हिंसा के विरोध में हिन्दू महापंचायत का ऐलान किया है। लेकिन उच्च न्यायालय ने इस महापंचायत पर रोक लगाते हुए इलाके में जलालपुर में पांच किलोमीटर के दायरे में धारा 144 लागू की है। 
सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि वह कभी नहीं चाहता की माहौल खराब हो। हरिद्वार के एसएसपी योगेंद्र रावत ने इस सन्दर्भ में कहा है कि इलाके में पुख्ता सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। 200 कांस्टेबल, 100 सब कांस्टेबल, सब इंस्पेक्टर और 5 कम्पनी पीएसी इलाके में तैनात की गई है। वही यह निर्देश दिया है कि जो भी धारा 144 का उल्लंघन करेगा वह दंड का भागीदार होगा। 
हिन्दू सेना के संस्थापक ने इस संदर्भ में एक बयान जारी कर कहा है कि कोई भी इसे नहीं रोक सकता और न हिन्दू समाज इसे बर्दाश्त करेगा। इस तरह की घटनाओं को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता यह समाज और देश के विरोध में है। उन्होंने प्रशासन को खुली चेतावनी दी है और हिन्दू महापंचायत करने की ज़िद पर अड़े हुए हैं।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।