Joshimath में भारतीय सेना की इमारतों में आई दरार

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. राष्ट्रीय

Joshimath में भारतीय सेना की इमारतों में आई दरार

Image


डेस्क। Joshimath इन दिनों इमारतों में आई दरारों की वजह से काफी सुर्खियों में है। वहीं केंद्र और राज्य सरकार जोशीमठ के लोगों की मदद भी कर रही है। साथ ही गुरुवार को आर्मी चीफ मनोज पांडे (Indian Army Chief Manoj Pande) ने यह भी बताया है कि जोशीमठ में मौजूद भारतीय सेना की 25 से 28 इमारतों में भी दरारें आ गई हैं।
साथ ही उन्होंने बताया है कि सैनिकों को अस्थायी तौर पर दूसरी जगह शिफ्ट भी किया गया है। साथ ही सेना प्रमुख ने यह बताया कि अगर जरूरत पड़ी तो सैनिकों को स्थायी रूप से औली (Auli) bhi शिफ्ट कर दिया जाएगा।
सेना प्रमुख ने आगे यह भी कहा कि जहां तक बात जोशीमठ बाईपास (Joshimath Bypass) की है तो वहां काम अस्थायी तौर पर रोक भी दिया गया है और इसके साथ ही इससे फॉरवर्ड इलाके (Forward Areas) में पहुंचन की हमारी क्षमता और ऑपरेशन तैयारियों (Operational Readiness) पर भी कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। 
वहीं हम स्थानीय प्रशासन (Local Administration) की हर संभव मदद भी करने वाले हैं।वहीं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) बुधवार रात को ही जोशीमठ भी पहुंच गए थे वहीं साथ ही यहां उन्होंने प्रभावित परिवारों से मुलाकात की और गुरुवार सुबह जोशीमठ के नरसिंह मंदिर में पूजा करने के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी ने यह भी कहा है कि हमारी सरकार प्रभावित परिवारों के साथ खड़ी भी है।
और इसके अलावा उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने राज्य के सीनियर अधिकारियों के साथ मीटिंग भी करी है। और इसके साथ ही इस मीटिंग में आर्मी, ITBP, NDRF के अलावा विभिन्न संस्थानों के वैज्ञानिक भी इसमें शामिल हुए है। इसके आलावा CMO ने बताया कि मुख्यमंत्री ने सभी एजेंसियों से लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भी बोला है।
केंद्रीय गृह मंत्री अमि‍त शाह ने भी जोशीमठ के संकट पर मीट‍िंंग भी की है।
साथ ही इस बीच जोशीमठ का मौसम भी लोगों की परेशानी बढ़ा रहा है और बार‍िश और ठंड के बीच लोग अपने घर भी खाली कर रहे हैं।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश