इंजीनियर को मिली राष्ट्रपति के पैर छूने की सजा, किया गया निलंबित

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. राष्ट्रीय

इंजीनियर को मिली राष्ट्रपति के पैर छूने की सजा, किया गया निलंबित

Image


डेस्क। जोधपुर दौरे के दौरान राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (Droupadi Murmu) के पैर छूने वाली इंजीनियर महिला अधिकारी को राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने सस्पेंड भी कर दिया है। वहीं ये कार्रवाई शुक्रवार देर शाम से की गई है और महिला अधिकारी पर आरोप है कि उसने ड्यूटी छोड़कर राष्ट्रपति के सुरक्षा प्रोटोकॉल का उल्लंघन भी (Breach of President's security) किया है।
गृह मंत्रालय के हस्तक्षेप के बाद लिया गया एक्शन
आपको बता दें कि ये सस्पेंशन ऐसे समय में हुआ है, जब कर्नाटक के हुबली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के रोड शो के दौरान एक लड़के के उनके करीब तक पहुंच जाने का मामला देशभर में काफी गर्माया हुआ है। और यह बताया जा रहा है कि राजस्थान में ये कार्रवाई पब्लिक हेल्थ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट (PHED) ने केंद्रीय गृह मंत्रालय (Central Home Ministry) के हस्तक्षेप के बाद करी है, और महिला अधिकारी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड भी कर दिया गया है।
जानकारी के लिए बता दें ये घटनाक्रम 4 जनवरी का है, जब राष्ट्रपति मुर्मू रोहट में स्काउट गाइड जाम्बोरे (Scout Guide Jamboree) के उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल हुई थीं साथ ही इसी दौरान PHED की जूनियर इंजीनियर अम्बा सियोल (Amba Seoul) ने अपनी ड्यूटी भूलकर राष्ट्रपति के पैर छूने की कोशिश की थी और अम्बा सियोल पानी की व्यवस्था देखने के लिए कार्यक्रम में मौजूद भी थीं।
 बता दें राष्ट्रपति के सुरक्षा प्रोटोकॉल को तोड़ते हुए, वे अचानक से आगे बढ़ीं और राष्ट्रपति के पैर छूने की कोशिश की हालांकि सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक दिया था पर इस घटना के बाद स्थानीय पुलिस ने उनसे औपचारिक पूछताछ भी की और तब उन्हें छोड़ दिया गया था।
 
वहीं जब केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस घटना पर संज्ञान लिया तो राजस्थान सरकार हरकत में आई और केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस घटना को राष्ट्रपति की सुरक्षा में गंभीर चूक मानते हुए राजस्थान सरकार और राजस्थान पुलिस से रिपोर्ट भी मांगी और तब संबंधित विभाग के चीफ इंजीनियर ने कार्रवाई करते हुए जूनियर महिला इंजीनियर अंबा सियोल को सस्पेंड करने का आदेश भी जारी कर दिया।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश