Jansandesh online hindi news

मुस्लिम लड़की से शादी करने पर हिन्दू लड़के को इस्लामी कट्टरपंथियों ने बीच सड़क दी सजा-ए-मौत !

मुस्लिम से शादी करने पर हिंदू युवक को सुल्ताना के दो भाइयोंने सरेआम रॉड से पीटा फिर चाकू से गोदकर मार डाला. नागाराजू ने 23 साल की सुल्ताना (उर्फ पल्लवी) से दो माह पूर्व 31 जनवरी को शादी की थी. नागाराजू हिन्दू था, इसलिए सुल्ताना के परिवारवाले उससे खफा थे. इस कारण ही उसकी हत्या की गई. इसी मामले में सुल्ताना के दो भाइयों (सैयद मोबिन अहमद और मोहम्मद मसूद अहमद) को अरेस्ट किया गया है.
 | 
मुस्लिम लड़की से शादी करने पर हिन्दू लड़के को इस्लामी कट्टरपंथियों ने बीच सड़क दी सजा-ए-मौत !

हैदराबाद : तेलंगाना के हैदराबाद में  मुस्लिम से शादी करने पर हिंदू युवक को सुल्ताना के दो भाइयोंने सरेआम रॉड से पीटा फिर चाकू से गोदकर मार डाला. नागाराजू ने 23 साल की सुल्ताना (उर्फ पल्लवी) से दो माह पूर्व 31 जनवरी को शादी की थी. नागाराजू हिन्दू था, इसलिए सुल्ताना के परिवारवाले उससे खफा थे. इस कारण ही उसकी हत्या की गई. इसी मामले में सुल्ताना के दो भाइयों (सैयद मोबिन अहमद और मोहम्मद मसूद अहमद) को अरेस्ट किया गया है. मामले को लेकर नागाराजू के एक रिश्तेदार ने आरोप लगाते हुए कहा था कि वो दोनों (सुल्ताना और नागाराजू) अपने कॉलेज के दिनों से एक दूसरे से प्यार करते थे. दोनों ने दो माह पूर्व पुराने शहर के आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली थी. दोनों ही अलग-अलग धर्मों के थे, इसलिए लड़की के परिवार ने नागाराजू को मार डाला. 

मुस्लिम लड़की से शादी करने पर हिन्दू लड़के को इस्लामी कट्टरपंथियों ने बीच सड़क दी सजा-ए-मौत !

इसमें नागाराजू का क़त्ल करता हुआ उनकी पत्नी सुल्ताना का भाई साफ नज़र आ रहा है. सुल्ताना अपने भाई को रोकने का प्रयास करती है, मगर हत्यारोपी उसे धक्का मारकर दूर फेंक देता है और जमीन पर पड़े नागाराजू के सिर पर ताबड़तोड़ वार करता रहता है. यह वीडियो किसी छत से शूट किया गया है. बता दें कि यह घटना हैदराबाद के सरूरनगर में बुधवार, 4 मई की है. यहां नागाराजू नाम के शख्स का उसके साले ने बीच सड़क पर हत्या कर दी थी. पति की हत्या के बाद सुल्ताना ने रोते हुए घटना बयां की थी.



उन्होंने कहा कि, 'मैं, हत्यारों से अपने पति की जान की भीख मांगती रही. मगर उन्होंने मेरे पति को चाकुओं से गोद डाला. मेरी आंखों के सामने मेरे पति को मार डाला.' जानकारी के अनुसार, एक महीने पहले, सुल्ताना के भाई ने नागाराजू का पता लगाने का प्रयास किया था, मगर विफल रहा. फिर 4 मई को आरोपियों ने नागाराजू का पीछा किया और पंजाला अनिल कुमार कॉलोनी, सरूरनगर में रेड लाइट पर नागाराजू को रोक लिया. जिसके बाद आरोपियों ने नागाराजू को लोहे की रॉड और चाकू से वार करके मार डाला. नागाराजू सिकंदराबाद के मररेडपल्ली का निवासी था और वह पुराने शहर के मलकपेट में एक कार शोरूम में सेल्समैन का काम करता था. 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।