Jansandesh online hindi news

बग्गा को पगड़ी न पहनने देने पर अल्पसंख्यक आयोग ने पुलिस से तलब की रिपोर्ट

 | 
Image

डेस्क। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने शनिवार को भाजपा के तजिंदर बग्गा पर पगड़ी पहनने की अनुमति नहीं देने को लेकर पंजाब पुलिस पर धावा बोल दिया है। खबरे आईं हैं कि जब पंजाब पुलिस उन्हें उनके पश्चिमी दिल्ली स्थित घर पर गिरफ्तार करने आई थी तो उसके बाद उन्हें पगड़ी भी नहीं पहनने दिया गया। 

 शनिवार को राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने राज्य के मुख्य सचिव को पत्र लिखा और सात दिनों के भीतर इसपर रिपोर्ट सौंपने को कहा।  

एनसीएम प्रमुख ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, "हमने पंजाब के मुख्य सचिव को सात दिनों के भीतर रिपोर्ट मांगी है कि भाजपा नेता तजिंदर सिंह बग्गा को पगड़ी पहनने की अनुमति नहीं दी जा रही है, जबकि उन्हें पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था।" एक ट्वीट में,  भाजपा की पंजाब इकाई ने फिर से आरोप दोहराया कि गिरफ्तारी के दौरान तजिंदर पाल बग्गा के पिता की पिटाई की गई थी। उनके अनुसार पुलिस ने उन्हें पगड़ी बांधने की भी अनुमति नहीं दी और उनके पिता को पीटा गया। 

आयोग ने मीडिया रिपोर्टों पर स्वत: संज्ञान लिया है कि तजिंदर सिंह बग्गा  सिख अल्पसंख्यक समुदाय के एक व्यक्ति को पंजाब पुलिस ने 6 मई, 2022 को उसकी गिरफ्तारी के दौरान कथित तौर पर पगड़ी पहनने की अनुमति नहीं दी थी। यह एक सिख के धार्मिक अधिकारों के उल्लंघन का एक गंभीर मामला है।   पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने शनिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उनकी कथित धमकी को लेकर पंजाब में दर्ज एक मामले में उनकी गिरफ्तारी पर मंगलवार तक रोक लगा दी है। गिरफ्तारी के कुछ घंटों बाद ही पुलिस को उन्हें रिहा करना पड़ा। पुलिस ने हस्तक्षेप किया। भाजपा नेता ने पंजाब पुलिस पर भी हमला करने का आरोप लगाया साथ ही दावा किया है कि वह राज्य में जांच के लिए उपस्थित नहीं हो रहे थे। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।