बीते 8 साल में सबसे अधिक दर्ज हुए राजद्रोह के मामले- NCB

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. राष्ट्रीय

बीते 8 साल में सबसे अधिक दर्ज हुए राजद्रोह के मामले- NCB

UPA case:- बीते 8 साल में सबसे अधिक दर्ज हुए राजद्रोह के मामले- NCB


India - राजद्रोह के संदर्भ में दर्ज मामलों को लेकर नेशनल क्राइम ब्यूरो की रिपोर्ट आ गई है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बीते 8 साल के दौरान सबसे अधिक राजद्रोह के मामले दर्ज हुए हैं। देश मे कुल 475 राजद्रोह के मामले दर्ज किये गए हैं। इनमें से 69 मामले सिर्फ असम के है। जो की कुल मामलों की 14. 52 फीसदी है। 

  
रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर देश मे 6 राजद्रोह के मामले दर्ज हुए हैं। तो उन 6 मेरे एक मामला असम राज्य का होगा। नेशनल क्राइम ब्यूरो ने यह आंकड़ा राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में दर्ज मामलों की रिपोर्ट तैयार करके प्रस्तुत किया है। इस आंकड़े में राजद्रोह के संदर्भ में दर्ज मामलों का आंकड़ा दिया गया है।
आंकड़ों के मुताबिक साल 2021 में देश भर में 76 राजद्रोह के मामले दर्ज किए गए थे, जो 2020 में दर्ज किए गए 73 मामलों से मामूली रूप से ज्यादा था। वहीं 2019 में इन मामलों की संख्या 93, 2018 में 70, 2017 में 51 मामले, 2016 में 35 मामले, 2015 में 30 मामले और 2014 में 47 मामले दर्ज किए गए थे।
रिपोर्ट के मुताबिक सबसे अधिक राजद्रोह के मामले असम, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश और जम्मू कश्मीर में दर्ज हुए हैं।इन छह राज्यों में ही 250 मामले दर्ज किए गए हैं जो कि 8 साल में पूरे देश में दर्ज कुल राजद्रोह के मामलों की संख्या के आधे से अधिक हैं।
जानकारी के लिए बता दें असम में राजद्रोह के रजिस्टर्ड मामले उस अवधि में दर्ज किए गए जब राज्य के 69 मामलों में से 2021 में तीन, 2020 में 12, 2019 में 17, 2018 में भी 17 मामले, साल 2017 में 19, 2014 में एक मामला दर्ज किया गया था।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश