Jansandesh online hindi news

President Election 2022। वोटों का ये गणित समझा देगा द्रौपदी मुर्मू क्यों पड़ रहीं यशवंत पर भारी

 | 
Image

 

President Election। राष्ट्रपति सिर्फ एक पद नहीं है, यह देश की संसद को पूरा करने का अभिन्न (Parts of Indian Parliament) अंग है। भारत की संसद सिर्फ राज्यसभा और लोकसभा (Upper house and lower house) से नहीं बनती बल्कि इसका तीसरा भाग देश का राष्ट्रपति होता हैं। इसी कारण से यह चुनाव काफी महत्वपूर्ण हो जाता है(President Election 2022)।

राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए की तरफ से द्रौपदी मुर्मू को अपना उम्मीदवार घोषित किया गया है, जिसके बाद मुर्मू अपना नामांकन भी भरने के लिए जा रही हैं। भले ही इस चुनाव के लिए विपक्ष ने यशवंत सिन्हा को अपना उम्मीदवार बनाया हो, लेकिन अगर आंकड़ों पर नजर डालें तो द्रौपदी मुर्मू का राष्ट्रपति बनना लगभत तय है। 

बता दें कि राष्ट्रपति चुनावों की गणित काफी सुलझी हुई होती है और इसमें पूर्वानुमानों को कोई चमत्कार ही पलट सकता है। इसी कारण से बीजेपी और पूरा एनडीए मुर्मू की जीत को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त नज़र आ रहा है। आज हम आपको आंकड़ों की मदद से पूरा गणित समझाएंगे।

क्या कहते हैं आंकड़े ? 

राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट वैल्यू के आंकड़ों पर नज़र डाली जाए तो एनडीए का पलड़ा काफी भारी दिखाई दे रहा है। राष्ट्रपति चुनावों में लोकसभा 540 और राज्यसभा के 229 सांसदों के अलावा राज्यों की विधानसभाओं के कुल 4 हजार 33 विधायक भी अपना मत देंगे। 

चुनाव के दौरान इन सभी जनप्रतिनिधियों के वोटों का वैल्यू निकाला जाता है। और कुल वोट वैल्यू 10 लाख 78 हजार 915 है, और किसी भी उम्मीदवार को बहुमत के लिए 5लाख 39 हजार 458 वोट चाहिए होते हैं।

• लोकसभा सांसद - 378000

• राज्यसभा सांसद - 160300

• विधायक - 540615

• कुल वोट- 1078915

बहुमत के लिए - 539458

इसी गणित को अप्लाई करते हुए अगर सांसदों और विधायकों का वोट वैल्यू मिलाकर देखें तो एनडीए के पास सबसे ज्यादा 5 लाख 26 हजार 966 वोट हैं। वहीं यूपीए के काफी कम वोट दिख रहे हैं। इसके साथ ही ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक और आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी ने भी एनडीए की उम्मीदवार मुर्मू को अपना समर्थन दे दिया है। 

अब अगर कुल वोटों की बात करें तो एनडीए के पास 526966 वोट दिख रहे हैं, वहीं यूपीए के पास महज 264158 वोट ही नज़र आ रहें हैं। एनडीए को जीतने के लिए बस 12 हजार 492 वोट वैल्यू का जुगाड़ करना होगा। 

बता दें नवीन पटनायक की बीजेडी ने मुर्मू को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है, ऐसे में बीजेडी के 31 हजार 668 वोट वैल्यू को एनडीए में मिला दिया जाए तो द्रौपदी मुर्मू की जबरदस्त जीत को कोई नहीं रोक पाएगा।

इसके साथ ही अब जगन मोहन रेड्डी की वाईएसआर कांग्रेस के 45 हजार से ज्यादा वोट भी इसमें जुड़ जाएंगे तो इसका सीधा मतलब है कि द्रौपदी मुर्मू आसानी से राष्ट्रपति की कुर्सी पा सकेंगे।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।