प्रियंका चोपड़ा की यूएन स्पीच हर भारतीय महिला के लिए बड़ी सीख, दुनिया कर रही प्रशंसा

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. राष्ट्रीय

प्रियंका चोपड़ा की यूएन स्पीच हर भारतीय महिला के लिए बड़ी सीख, दुनिया कर रही प्रशंसा

Image


Priyanka Chopra UN Speech: बॉलीवुड की 'देसी गर्ल' प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) ने एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र महासभा (UN) में अपने भाषण से दुनिया भर के लोगों को काफी प्रभावित किया। बता दें कि एक्ट्रेस ने कहा कि हमारी दुनिया में सब कुछ ठीक नहीं है। वहीं अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर प्रियंका चोपड़ा ने UNGA में सतत विकास लक्ष्यों के कई वीडियो और तस्वीरें भी शेयर कीं है, इसके साथ ही एक फोटो में उन्हें वैनेसा नकाटे के साथ में पोज देते हुए देखा जा सकता है। 

इसके साथ ही अन्य तस्वीरों में प्रियंका चोपड़ा के साथ मलाला यूसुफजई, अमांडा गोर्मन, सोमाया फारूकी और जूडिथ हिल के साथ भी देखा जा सकता है।  यूएन में प्रियंका चोपड़ा की स्पीच का वीडियो अब सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो रहा है।

आपको बता दें की संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण के दौरान एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा जोनस ने दुनिया में कई तरह की दिक्कतों को पटल पर रखा। बता दें कि प्रियंका चोपड़ा यूएन की गुडविल एंबेसडर हैं, जिन्होंने गरीबी, भूखमरी जैसे कई मुद्दों पर  लोगों  का ध्यान आकर्षित किया। 

वहीं प्रियंका ने लड़कियों के लिए शिक्षा की आवश्यकता हैं, इसके साथ ही दुनिया में बढ़ते रोष और कैसे हर कोई COVID-19 महामारी के प्रभावों से उबरने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है, इस पर जोर भी दिया।

उन्होंने यह भी कहा, 'मैं भारत में पली-बढ़ी हूं, जहां शिक्षा तक पहुंच बहुत सारी लड़कियों के लिए एक चुनौती है, वहीं जैसा कि दुनिया के कई अन्य हिस्सों में है, जहां बच्चे सीखना चाहते हैं, लेकिन ऐसा करने के लिए उन्हें कई तरह की चुनौतियों का सामना भी करना पड़ता है। इसलिए, मेरा दृढ़ विश्वास है कि शिक्षा, समानता, सामाजिक न्याय, सामाजिक परिवर्तन और लोकतंत्र की आधारशिला बनेगी।'दुनिया में सबकुछ ठीक नहीं'

अपने बयान में प्रियंका आगे कहती हैं, 'हम आज अपनी दुनिया में एक महत्वपूर्ण बिंदु पर आकर खड़े हो गए हैं। वहीं जब वैश्विक एकजुटता पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है तो इसमें देश COVID-19 महामारी के विनाशकारी प्रभावों से संघर्ष कर रहा है, साथ ही जलवायु संकट, जीवन और आजीविका को प्रभावित करता है।  

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश