JNU में विवाद के बाद जामिया में BBC documentary को लेकर जारी नियम

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. राष्ट्रीय

JNU में विवाद के बाद जामिया में BBC documentary को लेकर जारी नियम

Image


डेस्क। PM मोदी पर आधारित बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग का विवाद JNU के बाद जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी तक पहुंच गया है। वहीं छात्र संगठन SFI के बुधवार शाम 6 बजे स्क्रीनिंग के ऐलान के बाद बवाल भी हो गया।
यूनिवर्सिटी के बाहर प्रदर्शन कर रहे 13 स्टूडेंट्स को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में भी ले लिया है। साथ ही पूरा एरिया पुलिस छावनी में बदल चुका है। और इसके बाद SFI ने डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को भी टाल दिया।
काफी हंगामे के बाद बुधवार को जामिया यूनिवर्सिटी में PM नरेंद्र मोदी पर आधारित बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग टाल दी गई है। साथ ही स्टूडेंस यूनियन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) ने बुधवार शाम छह बजे डॉक्यूमेंट्री को दिखाए जाने के संबंध में एक पैम्फलेट भी जारी किया है। वहीं इसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन हरकत में आया और परिसर में सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। वहीं दिल्ली पुलिस के साथ-साथ अर्द्धसैनिक बलों के जवानों को तैनात भी किया गया है। साथ ही इस दौरान दोनों पक्षों में झड़प हुई और 13 छात्रों को पुलिस ने हिरासत में भी ले लिया।
जामिया यूनिवर्सिटी ने बताया है कि विश्वविद्यालय प्रशासन के संज्ञान में आया है कि एक राजनीतिक संगठन (SFI) से जुड़े कुछ छात्रों ने आज विश्वविद्यालय परिसर में एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म की स्क्रीनिंग के बारे में एक पोस्टर प्रसारित कर दिया है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक बार फिर कहा है कि बिना किसी अनुमति के परिसर में छात्रों की कोई बैठक/सभा या किसी भी फिल्म की स्क्रीनिंग नहीं की जाएगी और ऐसा न करने पर आयोजकों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की जाएगी। साथ ही विश्वविद्यालय के शांतिपूर्ण शैक्षणिक माहौल को खराब करने वाले लोगों/संगठनों को रोकने के लिए विश्वविद्यालय हर संभव उपाय भी कर रहा है।
वहीं दूसरी ओर दिल्ली पुलिस ने यह भी बताया कि विश्वविद्यालय की अनुमति के बिना डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पर अड़े छात्र हंगामा कर रहे थे और विश्वविद्यालय प्रशासन ने पुलिस को सूचित किया कि कुछ छात्र सड़कों पर हंगामा कर रहे थे तो इसलिए इलाके में शांति सुनिश्चित करने के लिए शाम 4 बजे के आसपास कुल 13 छात्रों को हिरासत में ले लिया गया है।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश