Jansandesh online hindi news

ज्ञानवापी मामले में सुब्रमण्यम स्वामी ने कसा तंज

 | 
Image

डेस्क। मथुरा स्थित कृष्ण जन्मभूमि और वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद के मामले पर सियासत गरमाई हुई है। गुरुवार को वाराणसी की एक अदालत ने ज्ञानवापी मस्जिद में 17 मई तक दोबारा सर्वे कराने का आदेश जारी किया। 

बता दें कि इस मामले में दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष की आपत्तियों को खारिज किया। इस मुद्दे को लेकर सियासी बयानबाजी के बीच, भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने राम मंदिर, कृष्‍ण जन्‍मभूमि और ज्ञानवापी के बीच बड़ा क्रॉस ‘कनेक्‍शन’ बताया है।

भाजपा से राज्यसभा सांसद सुबमण्यम स्वामी से पूछा गया कि क्या सिविल कोर्ट के फैसले के बाद भी इस सर्वे के कहीं से भी रुकने की गुंजाइश आपको दिखाई देती है? 

टाइम्स नाउ नवभारत से बातचीत करते हुए स्वामी ने कहा, “इसको लेकर आप हाई कोर्ट जा सकते हैं या सुप्रीम कोर्ट भी मूव कर सकते हैं। मुझे नहीं लगता है कि हाई कोर्ट या सुप्रीम कोर्ट इसको लेकर भाव देगा क्योंकि सरकारी कर्मचारी या अधिकारी अंदर जाकर सर्वे करेंगे और बाहर से लगता है कि ये एक मंदिर भी था और उसे तोड़कर मस्जिद बना दी गई।”

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।