1 जनवरी से इन लोगों को नहीं मिलेगा राशन

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. राष्ट्रीय

1 जनवरी से इन लोगों को नहीं मिलेगा राशन

Image


Free Ration Card Scheme 2023: प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana)के कुछ लाभार्थियों के लिए ये खबर काफ़ी निराशा भरी है। वहीं क्योंकि सरकार ने मुफ्त राशन योजना (free ration scheme) में कुछ बदलाव भीं किये हैं।
बता दें जिसके तहत लाखों एसे लोग हैं जिन्हें 1 जनवरी 2023 से पूरे साल फ्री गेंहू, चावल, चने का लाभ नहीं मिलने वाला । बता दें हाल ही में सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA)के तहत फ्री राशन (free ration)देने का ऐलान भी कर दिया था। वहीं अब सिर्फ गरीब राशन कार्ड धारकों को ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKAY)के तहत फ्री गेंहू, चावल दिया जाएगा। और जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है, ऐसे लोग अब सुविधा का लाभ भी नहीं ले पाएंगे।
आपको बता दें प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKAY) के तहत सरकारी आंकड़ों के मुताबिक फिलहाल 81.3 करोड़ लोग फ्री राशन योजना (Free Ration Card Scheme 2023) का लाभ उठा रहे हैं। पर इनमें 1 करोड़ से ज्यादा लोग ऐसे भी हैं जिनके पास राशन कार्ड ही नहीं है। वहीं क्योंकि 2020 में जब इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री मोदी ने की थी उस समय कोरोना से लोग त्राहीमाम कर रहे थे और इसलिए उस टाइम किसी को भी राशन की दुकान पर आकर फ्री राशन लेने की सुविधा दी गई थी। और तभी से ये सुविधा लागातार चल भी रही है और हाल ही में सरकार ने फिर से 2023 में फ्री राशन देने की घोषणा भी करी है। पर अब बिना राशन कार्ड वाले लोग सुविधा का लाभ नहीं उठा पाएंगे क्योंकि सरकार ने तत्काल प्रभाव से बिना राशन कार्ड वालों को फ्री राशन देने पर प्रतिबंध का आदेश जारी किया हैं।
जानिए क्या हुआ बदलाव
अभी तक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत गेहूं, चावल मोटा अनाज 1 रुपये से लेकर 3 रुपये प्रतिकिग्रा के हिसाब से मिलता आया है। पर अब केन्द्र सरकार के मुताबिक ये पूरी तरह फ्री पात्र लोगों को राशन वितरण किया जाएगा। वहीं दिसंबर 2023 तक किसी से कोई पैसा नहीं लिया जाएगा लेकिन बिना कार्ड धारकों को पैसे देकर भी राशन सुविधा (Free Ration Card Scheme 2023)का लाभ नहीं मिलने वाला। क्योंकि सरकार का मानना है कि स्कीम का लाभ ऐसे भी करोड़ों लोग ले रहे हैं, जो वास्तव में इसके लिए पात्र ही नहीं है और कई लोग फ्री राशन लेने कार से भी जाते हैं।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश