Jansandesh online hindi news

इस न्यायाधीश ने क्यों छोड़ दिया लखीमपुर केस, मच गया बवाल

 | 
Image

डेस्क। लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के बाद रविवार (24 अप्रैल 2022) को मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा ने सरेंडर कर दिया। अब इस केस ने एक नया मोड़ ले लिया है। बात दें कि गिरफ्तारी के बाद आशीष की जमानत पर बुधवार को हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में सुनवाई से पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ के न्यायाधीश राजीव सिंह ने इस केस से खुद को अलग कर लिया है। न्यायाधीश द्वारा इस केस से खुद को अलग करने के कई कारण गिनाए जा रहें हैं। साथ ही इसने, केस और न्यायालयों पर कई प्रशन चिन्ह भी लगा दिए हैं।

बता दें कि न्यायमूर्ति सिंह की बेंच ने पहले आशीष को जमानत दे दी थी, जिस को सुप्रीम कोर्ट ने 18 अप्रैल को रद्द कर दिया था। मामले की सुनवाई इलाहाबाद हाइकोर्ट की लखनऊ एक्सटेंशन बेंच में 27 अप्रैल को होनी थी लेकिन उसे अब आगे बढ़ा दिया गया है। 

जानकारी के लिए बता दें कि अब इस मामले की अगली सुनवाई 29 अप्रैल को होनी है। 

इसी बीच जस्टिस राजीव सिंह ने खुद को इस मामले से अलग करने की जानकारी मुख्य न्यायाधीश के सामने रखी है। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।