Jansandesh online hindi news

Alert : एक्सपर्ट टीम ने बताया - भारत में हर रोज़ 10 लाख केस आएंगे,  इस तारीख से पीक पर होगा कोरोना!
 

भारत में कोरोना की तीसरी लहर (Coronavirus 3rd Wave) आ गई है. एक्सपर्ट के मुताबिक जनवरी में तीसरी लहर का पीक दिख सकता है. यानी इसी महीने कोरोना के एक दिन में सबसे ज्यादा केस सामने आ सकते हैं. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस और (IISc) और इंडियन स्टैटिसटिकल इंस्टीट्यूट (ISI ) बेंगलुरु के मुताबिक जनवरी के आखिरी हफ्ते में हर रोज़ 10 लाख केस आएंगे.
 | 
Alert : एक्सपर्ट टीम ने बताया - भारत में हर रोज़ 10 लाख केस आएंगे,  इस तारीख से पीक पर होगा कोरोना!

नई दिल्ली. पूरी दुनिया में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) को लेकर हाहाकार मचा है. अब ओमिक्रॉन के चलते भारत में कोरोना की तीसरी लहर (Coronavirus 3rd Wave) आ गई है. एक्सपर्ट के मुताबिक जनवरी में तीसरी लहर का पीक दिख सकता है. यानी इसी महीने कोरोना के एक दिन में सबसे ज्यादा केस सामने आ सकते हैं. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस और (IISc) और इंडियन स्टैटिसटिकल इंस्टीट्यूट (ISI ) बेंगलुरु के मुताबिक जनवरी के आखिरी हफ्ते में हर रोज़ 10 लाख केस आएंगे. बता दें कि शुक्रवार को कोरोना के एक दिन में 1 लाख से ज्यादा केस आए हैं.

ये स्टडी प्रोफेसर शिव अथरेया, प्रोफेसर राजेश सुंदरसन, IISc और ISI बेंगलुरु की टीम ने किया है. एक्सपर्ट के मुताबिक ये अनुमान ओमिक्रॉन के संक्रमण को ध्यान में रख कर लगाया गया है. स्टडी में कहा गया है कि जनवरी के आखिरी हफ्ते में कोरोना के सबसे ज्यादा केस आएंगे और इसका असर फरवरी में दिखेगा. हालांकि इसमें ये भी कहा गया है कि अलग-अलग राज्यों की अलग-पीक होगी. कोरोना के सबसे ज्यादा केस जनवरी मध्य से लेकर फरवरी के दूसरे हफ्ते तक दिखेगी. साथ ही मार्च से कोरोना के केस कम होने शुरू होंगे.

स्टडी के मॉडल के मुताबिक दिल्ली में पीक जनवरी के मध्य या तीसरे सप्ताह तक हो सकता है. तमिलनाडु के लिए ये जनवरी के अंतिम सप्ताह या फरवरी के पहले सप्ताह में होगा. ये अनुमान पिछले संक्रमण और टीकाकरण को ध्यान में रख कर तैयार किया गया है. मॉडल ने माना कि या तो 30%, 60% या 100% आबादी अतिसंवेदनशील है. वायरस के प्रति संवेदनशील लोगों के प्रतिशत के आधार पर, भारत में दैनिक मामले पीक के दौरान लगभग 3 लाख, 6 लाख या 10 लाख हो सकते हैं.

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), कानपुर के शोधकर्ताओं के इसी तरह के एक अध्ययन ने अनुमान लगाया है कि भारत में कोविड -19 महामारी की तीसरी लहर 3 फरवरी तक पीक पर हो सकती है. नेशनल कोविड -19 सुपरमॉडल कमेटी ने भी पिछले महीने भविष्यवाणी की थी कि फरवरी में भारत में कोरोनावायरस की तीसरी लहर आने की उम्मीद है.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।