Jansandesh online hindi news

Anurag Thakur in Gwalior: देश विरोधी बातें कहने और Fake News फैलाने वाले न्यूज पोर्टल पर होगी कार्रवाई: अनुराग ठाकुर 

न्यूज वेब पोर्टल के नाम पर देश में भय, भ्रम व झूठ फैलाने व देश विरोधी बाते कहने वालों पर मंत्रालय ने हाल ही में कार्रवाई की है, जो आगे भी जारी रहेगी। ग्वालियर जिले के टेकनपुर स्थित सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) अकादमी के दीक्षा समारोह में भाग लेने पहुंचे ठाकुर ने मीडिया से बातचीत के दौरान उक्त बात कही।
 | 
Anurag Thakur in Gwalior: देश विरोधी बातें कहने और Fake News फैलाने वाले न्यूज पोर्टल पर होगी कार्रवाई: अनुराग ठाकुर 

ग्वालियर । केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि न्यूज वेब पोर्टल के नाम पर देश में भय, भ्रम व झूठ फैलाने व देश विरोधी बाते कहने वालों पर मंत्रालय ने हाल ही में कार्रवाई की है, जो आगे भी जारी रहेगी। ग्वालियर जिले के टेकनपुर स्थित सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) अकादमी के दीक्षा समारोह में भाग लेने पहुंचे ठाकुर ने मीडिया से बातचीत के दौरान उक्त बात कही। इस दौरान उन्होंने कहा कि न्यूज वेब पोर्टलों के लिए स्पष्ट गाइडलाइन जारी की गई है। इसके अनुसार सूचना विभाग को पहले सूचना देनी होती है कि चैनल कहां से संचालित किए जा जा रहे हैं। कौन संचालित कर रहा है।

पूर्व में भी पाकिस्तान के कई लोगों ने भारत के खिलाफ ऐसे ही चैनलों के माध्यम से देश विरोधी षड्यंत्र रचा था, जिनके खिलाफ कार्रवाई की गई है। देश विरोधी बातें कहने और दिखाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पंजाब में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा मामले में वहां की सरकार से चूक हुई है। राज्यों में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के दौरान सुरक्षा की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है।

बीएसएफ अकादमी के दीक्षा समारोह में केंद्रीय मंत्री ठाकुर ने कहा कि देश की सुरक्षा में बीएसएफ का अहम रोल है। यहां डाग स्क्वायड ने जो करतब दिखाए, उससे देश की सुरक्षा में उनकी भूमिका समझी जा सकती है। इस दौरान 75 पुरुष और तीन महिला सहायक कमांडेंट ने देश सेवा की शपथ ली। इस अवसर पर बीएसएफ के महानिदेशक पंकज कुमार सिंह मौजूद रहे।

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक न्यूज वेबसाइट पर देश को बदनाम करने और देश के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया था। पात्रा ने कहा कि देश में एक ऐसा सरगना है. जो देश को ही नीचे दिखाने के लिए काम कर रहा है, ये एक तरह की अंतरराष्ट्रीय साजिश है।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि एक न्यूज वेबसाइट का एक ही मकसद है कि हिंदुस्तान की सरकार को फेल बताना और विदेश की कुछ ताकतों का एजेंडा चलाना। इसमें बाहरी ताकतें फंड भेजती थीं। ये पीपीके नाम की कंपनी के अंतर्गत आती है। इन्होंने 9.59 करोड़ रुपये के एफडीआइ को स्वीकार किया। इसमें मुख्य रूप से विदेश के तीन लोग सम्मिलित थे। इसके अलावा करीब 30 करोड़ रुपये इन्होंने विदेशों की अलग-अलग एजेंसियों से प्राप्त किया।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।