Jansandesh online hindi news

पूरी महाराष्ट्र में सिनेमाघरों, मल्टीप्लेक्स, थिएटर और सभागारों को 22 अक्‍टूबर से खोला जा रहा 

 | 
पूरी महाराष्ट्र में सिनेमाघरों, मल्टीप्लेक्स, थिएटर और सभागारों को 22 अक्‍टूबर से खोला जा रहा

मुंबई

कोरोना संक्रमण नियंत्रण में देखते हुए पूरी महाराष्ट्र में सिनेमाघरों, मल्टीप्लेक्स, थिएटर और सभागारों को 22 अक्‍टूबर से खोला जा रहा है। इसके लिए राज्‍य सरकार ने मंगलवार को नई गाइडलाइन जारी की है। सरकार का निर्देश है कि इस दौरान यहां मौजूद कर्मचारी और आने वाले दर्शक कोविड गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन करें। वैक्‍सीन करवा चुके दर्शकों और कर्मचारियों को ही यहां आने की अनुमति होगी। गौरतलब है कि बीते कई माह से कोरोना महामारी के चलते सिनेमाहाल सिनेमाघरों, मल्टीप्लेक्स, थिएटर और सभागारों समेत कई सार्वजनिक स्‍थानों पर प्रतिबंध लगाये गए थे।

कोरोना वायरस: कितनी दूरी रखना है जरूरी

अमेरिकी मेडिकल जर्नल में छपी 1948 की इस स्टडी में बैक्टीरिया का संक्रमण देखा गया, जो करीब 2.9 मीटर तक फैला. अब बात वायरस की है और उसके लिए तो इस तस्वीर में लोगों के बीच जितनी दूरी भी शायद काफी ना हो.

महाराष्ट्र सरकार की नई SOP

- यहां मौजूद कर्मचारियों और आने वाले दर्शक वैक्‍सीन की डोज ले चुके हैं।

- कोविड गाइडलाइन का पालन करें।

-टीकाकरण प्रमाण पत्र अपने साथ रखें।

-सिनेमाघरों और सभागारों के लिए दिशानिर्देशों में 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता का भत्ता भी शामिल है।

- प्रबंधन को आम और प्रतीक्षा क्षेत्रों में भीड़ को नियंत्रित करना होगा, सैनिटाइज़र उपलब्ध कराना होगा और यह सुनिश्चित करना होगा कि कर्मचारी और संरक्षक मास्क पहनें।

- हॉल के अंदर कोई भी खाने का सामान न ले जाएं

महाराष्ट्र में 22 अक्‍टूबर से खुल जाएंगे सिनेमाघरों, मल्टीप्लेक्स, थिएटर और सभागार; सरकार ने जारी की SOP

- प्रवेश करने वालों का थर्मल चेकअप अनिवार्य कर दिया गया है।

-मल्टीप्लेक्स के लिए, भीड़ से बचने के लिए शो टाइमिंग को कम किया जाएगा।

- बॉक्स ऑफिस विंडो खोलने के अलावा डिजिटल टिकट बुकिंग को प्रोत्साहित करना होगा।

-टीकाकरण के दावों के आसान सत्यापन के लिए, कर्मचारियों और संरक्षकों के फोन में आरोग्य सेतु ऐप इंस्टॉल होना चाहिए।

- टीकाकरण के बाद 14 दिनों की अवधि पूरी होने के बाद ही यहां प्रवेश करने और काम करने की अनुमति दी जाएगी।

-वेंटिलेशन और एयर कंडीशनिंग प्रोटोकॉल के अनुसार होना चाहिए।

- तापमान 24 से 30 डिग्री सेल्सियस और आर्द्रता 40 और 70 के बीच बनाए रखा जाना चाहिए।

नाटक थिएटरों के लिए SOP

-मंच के पीछे मनोनीत लोग ही हो, यहां कोई अतिथ‍ि उपस्थित न हो। मंच के पीछे कोई अतिथि नहीं

- अभिनेताओं, विशेष रूप से बाल कलाकारों और मंच के पीछे के कर्मचारियों की नियमित चिकित्सा जांच

- शो की संपत्ति, ग्रीन रूम और ऑडिटोरियम का सैनिटाइजेशन ।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।