Jansandesh online hindi news

संसद भवन में पहुंचा कोरोना, जांच में मिले 400 कर्मचारी पाजिटिव

भारत की संसद के लगभग 400 कर्मचारी कोरोना जाँच के दौरान पॉजिटिव पाए गए हैं. सूत्रों से प्राप्त हुई खबर के अनुसार, राज्यसभा सचिवालय के 65, लोकसभा सचिवालय के लगभग 200 तथा संसद में काम करने वाले अन्य 133 व्यक्ति 4 से 8 जनवरी के चलते कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए राज्यसभा के चेयरमैन वेंकैया नायडू ने गाइडलाइन जारी की हैं.
 | 
संसद भवन में पहुंचा कोरोना, जांच में मिले 400 कर्मचारी पाजिटिव

नई दिल्ली: दिल्ली में नए केसों के अचानक बढ़ने के मद्देनजर 6-7 जनवरी को औचक परीक्षण किया गया था. भारत की संसद के लगभग 400 कर्मचारी कोरोना जाँच के दौरान पॉजिटिव पाए गए हैं. सूत्रों से प्राप्त हुई खबर के अनुसार, राज्यसभा सचिवालय के 65, लोकसभा सचिवालय के लगभग 200 तथा संसद में काम करने वाले अन्य 133 व्यक्ति 4 से 8 जनवरी के चलते कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए राज्यसभा के चेयरमैन वेंकैया नायडू ने गाइडलाइन जारी की हैं.

वही राज्यसभा सचिवालय ने अफसरों एवं कर्मचारियों की मौजूदगी पर पाबंदी लगा दी है. नवीनतम निर्देशों के मुताबिक, अवर सचिव/कार्यकारी अफसर के पद से नीचे के 50 फीसदी अफसरों एवं कर्मचारियों को इस महीने के आखिर तक घर से ही काम करना होगा. वे कुल कर्मचारियों का तकरीबन 65 फीसदी हैं.

वही विकलांग एवं गर्भवती महिलाओं को दफ्तर में मौजूद होने से छूट दी गई है. सभी ऑफिशियल मीटिंग्स वर्चुअली होंगी. राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने निर्देश दिया कि सभी 1300 अफसरों एवं कर्मचारियों की कोरोना जाँच की जाए. उनका संक्रमण ठीक होने पर सख्त निगरानी रखी जाए तथा आवश्यकता पड़ने पर हॉस्पिटल में एडमिट होने और उपचार में सहायता की जाए. वहीं शनिवार की शाम को राष्ट्रीय राजधानी में 20,181 नए कोरोना केस दर्ज किए गए, जो बीते 8 माहों में सबसे ज्यादा हैं. नए केसों ने शहर में संक्रमण के आँकड़े को 15 लाख 26 हजार 979 तक पहुंचा दिया है. 7 और मौतें दर्ज होने के पश्चात् मरने वालों का आँकड़ा बढ़कर 25,143 हो गया है.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।