Jansandesh online hindi news

डेविड मालपास - भारतीय अर्थव्यवस्था पर कोरोना का काफी असर था, लेकिन अब उबर रही है वर्ल्ड बैंक 

 | 
डेविड मालपास - भारतीय अर्थव्यवस्था पर कोरोना का काफी असर था, लेकिन अब उबर रही है वर्ल्ड बैंक 

भारतीय अर्थव्यवस्था कोरोना संकट से उबर रही है. यह बात वर्ल्ड बैंक प्रेसिडेंट डेविड मालपास ने बुधवार को कही. डेविड मालपास ने कहा, भारतीय अर्थव्यवस्था पर कोरोना का काफी असर पड़ा था, लेकिन अब यह उबर रही है और वर्ल्ड बैंक इसका स्वागत करता है.  

'वैक्सीन लेने के बाद डेल्टा वायरस से 60 फीसदी तक घटता है संक्रमण का खतरा'

डेविड मालपास ने यह भी कहा, भारत औपचारिक क्षेत्र की अर्थव्यवस्था में अधिक लोगों को एकीकृत करने और लोगों की कमाई बढ़ाने की बड़ी चुनौतियों का सामना कर रहा है. हालांकि, भारत ने कुछ प्रगति की है. यह पर्याप्त नहीं है. 

'वैक्सीनेशन के प्रयास में प्रगति हुई'

मालपास ने कहा, भारत कोरोना की लहरों की चपेट में आया, यह दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने वैक्सीन का बड़ी मात्रा में उत्पादन के साथ प्रतिक्रिया दी, वैक्सीनेशन के प्रयास में प्रगति हुई है. लेकिन हमें भारतीय अर्थव्यवस्था पर और विशेष रूप से भारतीय अर्थव्यवस्था के अनौपचारिक क्षेत्र पर, जो कि बहुत बड़ा है, कोरोना के कारण हुए नुकसान को पहचानना होगा. 

मुद्रास्फीति से भारत भी प्रभावित

इससे पहले वर्ल्ड बैंक ने भारतीय अर्थव्यवस्था के 8.3 प्रतिशत की दर से बढ़ने का अनुमान जताया है. इस पर मालपास ने कहा, उन्होंने यह भी कहा कि भारत, अन्य देशों की तरह, अब कोरोना की वजह से आपूर्ति श्रृंखला में व्यवधान का सामना कर रहा है.

कोरोना की वैक्सीन बच्चों को कब और कैसे लगेगी? बन रहे हैं नये नियम

हालांकि, भारतीय अर्थव्यवस्था अब उबर रही है. हम इसका स्वागत करते हैं. लेकिन भारत, अन्य देशों की तरह, अब आपूर्ति श्रृंखला में व्यवधान और दुनिया में बढ़ रही मुद्रास्फीति से बहुत प्रभावित है. 

उन्होंने कहा कि वे 2019 के अंत में भारत गए थे और वहां किए जा रहे बदलावों को देखा जो बैंकिंग प्रणाली, वित्तीय प्रणाली, सिविल सेवा प्रणाली और भारत के स्वच्छ पानी में सुधार के तरीकों की तलाश में काफी सकारात्मक थे. स्वच्छ जल में सुधार के तरीके भारत में पोषण और बाल पोषण के लिए बहुत अहम हैं. स्वच्छ जल जीवन के लिए सबसे महत्वपूर्ण प्रारंभिक बिंदुओं में से एक है. 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।