Jansandesh online hindi news

'हमें मार दीजिए-गाड़ दीजिए, कोई फर्क नहीं पड़ता' प्रियंका गांधी पर हुए सवाल पर बोले राहुल

 | 
'हमें मार दीजिए-गाड़ दीजिए, कोई फर्क नहीं पड़ता' प्रियंका गांधी पर हुए सवाल पर बोले राहुल

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आज बुधवार को लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) कांड पर यूपी और केंद्र सरकार को घेरा. दिल्ली में मीडिया को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने प्रियंका गांधी के सवाल पर यह भी कहा कि हमें मार दीजिए, गाड़ दीजिए कोई फर्क नहीं पड़ता, ये सब देखना हमारी सालों पुरानी ट्रेनिंग है.प्रियंका गांधी पर हुआ सवाल तो बोले राहुल, 'हमें मार दीजिए-गाड़ दीजिए, कोई फर्क नहीं पड़ता'

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकार ने सवाल किया कि प्रियंका गांधी ने पुलिस द्वारा बुरे बर्ताव की बात कही है. इसपर राहुल गांधी ने कहा कि हमें मार दीजिए, गाड़ दीजिए, काट दीजिए, हमारे साथ बुरा बर्ताव कीजिए, उससे कोई फर्क नहीं पड़ता. हमारी ट्रेनिंग ही ऐसी है. मुद्दा किसानों का है, उसकी बात करते रहेंगे.इससे पहले राहुल ने प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी पर सवाल किया गया था. इसपर राहुल गांधी ने कहा कि हां प्रियंका गांधी को बंद किया गया है, लेकिन बड़ा मुद्दा किसानों का है.

आज लखीमपुर जाएंगे राहुल गांधी

रोक के बावजूद राहुल गांधी लखीमपुर जाने का ऐलान कर चुके हैं. प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें इजाजत नहीं मिली है लेकिन वह लखीमपुर जाएंगे. राहुल ने कहा 'लखीमपुर खीरी में धारा 144 लागू है  यह केवल 5 लोगों को रोकती है, हम 3 लोग जा रहे हैं. हमने उनको चिट्ठी लिख दिया है। विपक्ष का काम दबाव बनाने का है ताकि कार्रवाई हो.'

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को घेरा

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'कल प्रधानमंत्री लखनऊ में थे मगर लखीमपुर खीरी नहीं जा पाए.' राहुल ने आगे आरोप लगाया कि मृतक किसानों का ठीक से पोस्टमार्टम नहीं किया जा रहा. उन्होंने यह भी कहा कि आज दो सीएम (भूपेश बघेल और चरणजीत चन्नी) के साथ लखीमपुर जाने की कोशिश करेंगे.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।