Jansandesh online hindi news

जानिए किस मुद्दे पर बात करने  कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिलने पहुंचे पंजाब के CM चरणजीत चन्नी

 | 
जानिए किस मुद्दे पर बात करने  कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिलने पहुंचे पंजाब के CM चरणजीत चन्नी

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी अचानक ही पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिलने उनके मोहाली स्थित फार्महाउस पर मिलने पहुंचे हैं। फिलहाल कैप्टन अमरिंदर सिंह से उनकी मुलाकात का एजेंडा सामने नहीं आया है। हालांकि कयास लगाए जा रहे हैं कि केंद्र सरकार की ओर से अंतरराष्ट्रीय सीमा के 50 किलोमीटर तक के दायरे में बीएसएफ को बड़े अधिकार दिए जाने के मसले पर दोनों नेताओं के बीच बातचीत हो सकती है। कैप्टन अमरिंदर सिंह बीते कई दिनों से सुर्खियों से परे हैं। यही नहीं सीएम चन्नी के शपथग्रहण और फिर उनके बेटे की शादी से भी वह दूर थे।

कैप्टन ने सिद्धू पर किए हैं हमले, पर चन्नी पर हमेशा रहे हैं नरम

ऐसे में चरणजीत सिंह चन्नी के अचानक कैप्टन अमरिंदर से मुलाकात करने पहुंचने से कयास तेज हो गए हैं। ये कयास इसलिए भी तेज हैं क्योंकि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कभी भी सीएम चन्नी के खिलाफ टिप्पणी नहीं की थी। यही नहीं सिद्धू की ओर से प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दिए जाने के बाद भी कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक तरह से चन्नी का ही समर्थन किया था। उनका कहना था कि नवजोत सिद्धू सीएम के कामकाज में दखल देना चाहते हैं और कोई भी इस बात को स्वीकार नहीं करेगा।

कैप्टन अमरिंदर और चन्नी की मुलाकात का वक्त भी है बेहद अहम

कैप्टन अमरिंदर सिंह से चरणजीत सिंह चन्नी की इस मुलाकात का वक्त भी खास है। एक ओर जहां नवजोत सिंह सिद्धू हाईकमान के सामने आज (गुरुवार) पेश होने वाले हैं तो उससे ठीक पहले चन्नी और कैप्टन की मुलाकात की खबरों ने सियासी पारा चढ़ा दिया है। प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू पहली बार हाईकमान से मुलाकात करेंगे। कहा जा रहा है कि इस दौरान पार्टी में सिद्धू के राजनीतिक भविष्य का फैसला भी हो सकता है। यदि नवजोत सिंह सिद्धू अपने तेवर ढीले नहीं करते हैं तो फिर हाईकमान उनके इस्तीफे को स्वीकार कर किसी नए नेता को प्रदेश अध्यक्ष की कमान दे सकता है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।