Jansandesh online hindi news

चंडीगढ़ में 'ओमिक्रोन' वैरिएंट का खतरा बढ़ा, सभी स्कूल होंगे बंद, टीचर और स्टूडेंट हो चुके हैं संक्रमित

शहर में कोरोना की संभावित तीसरी लहर और नए वैरिएंट की शहर में पुष्टि होने के बाद शहर में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। बता दें कि स्कूलों से स्टूडेंट्स और शिक्षक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं लेकिन किसी में अभी तक नए वैरिएंट की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि जो बच्चा कोरोना संक्रमित पाया गया है वह इटली से लौटे युवक के संपर्क में आया था, युवक में नए वैरिएंट ओमिक्रोन की पुष्टि हो चुकी है।
 | 
चंडीगढ़ में 'ओमिक्रोन' वैरिएंट का खतरा बढ़ा, सभी स्कूल होंगे बंद, टीचर और स्टूडेंट हो चुके हैं संक्रमित

चंडीगढ। : कोरोना संक्रमण अब स्कूलों तक पहुंच चुका है। शहर में एक प्राइवेट स्कूल का स्टूडेंट और सरकारी स्कूल की शिक्षिका कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ऐसे में महामारी के नए वैरिएंट के खतरे को देखते हुए शहर के स्कूलों को बंद करने का फैसला लिया गया है। शहर के सभी स्कूलों में 20 दिसंबर छुट्टियों की घोषणा की गई है। सभी स्कूल 9 जनवरी 2022 तक बंद रहेंगे। यह निर्णय विभाग ने शहर के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों के लिए लिया है।

शहर में कोरोना की संभावित तीसरी लहर और नए वैरिएंट की शहर में पुष्टि होने के बाद शहर में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। बता दें कि स्कूलों से स्टूडेंट्स और शिक्षक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं लेकिन किसी में अभी तक नए वैरिएंट की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि जो बच्चा कोरोना संक्रमित पाया गया है वह इटली से लौटे युवक के संपर्क में आया था, युवक में नए वैरिएंट ओमिक्रोन की पुष्टि हो चुकी है।

बता दें कि अमूमन दिसंबर में स्कूलों में सर्दियों की छुट्टियां होती थीं, लेकिन इस बार कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए स्कूलों में छुट्टियों में बढ़ोतरी की गई है। एकेडमिक कलैंडर में शिक्षा विभाग ने 27 दिसंबर 2021 से पांच जनवरी 2022 तक शहर के स्कूलों में सर्दियों की छुट्टियों करने की घोषणा की थी, लेकिन शहर में कोरोना की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए स्कूलों को ज्यादा दिन के लिए बंद करने का फैसला लिया है। विभागीय जानकारों की माने तो अभी नौ जनवरी तक स्कूल बंद रहेंगे, यदि जरूरत हुई तो छुट्टियों को बढ़ाया भी जा सकता है, ताकि बच्चों को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रहा जा सके।

कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए विभाग ने भले ही स्कूलों को बंद करने का फैसला लिया है, लेकिन नगर निगम चुनाव में ड्यूटी पर लगे टीचिंग और नान टीचिंग स्टाफ को कोई राहत नहीं मिलेगी। चुनाव ड्यूटी में लगे स्कूल स्टाफ को 21 दिसंबर को चुनाव का चार्ज संभालते हुए मतगणना तक सेवाएं देनी होंगी। चुनाव प्रक्रिया पूरी होने के बाद शिक्षक छूट्टियां ले सकेंगे।

शहर में कोरोना की संभावित तीसरी लहर और नए वैरिएंट की शहर में पुष्टि होने के बाद शहर में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। बता दें कि स्कूलों से स्टूडेंट्स और शिक्षक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं लेकिन किसी में अभी तक नए वैरिएंट की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि जो बच्चा कोरोना संक्रमित पाया गया है वह इटली से लौटे युवक के संपर्क में आया था, युवक में नए वैरिएंट ओमिक्रोन की पुष्टि हो चुकी है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।