Jansandesh online hindi news

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में गंभीर चूक, फिरोजपुर के SSP सस्पेंड,  पूर्व मुख्यमंत्री amrinder singh ने कहा- पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगे !

पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि चन्नी सरकार राज्य में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने में पूरी तरह विफल रही है. पंजाब लोक कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह ने मीडिया से कहा कि अगर हमें अपने राज्य को सुरक्षित रखना है और यहां कानून-व्यवस्था बनाए रखना है, तो मुझे लगता है कि राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए. मोदी बुधवार को चुनावी राज्य में एक रैली को संबोधित किए बिना लौट आए.

 | 
प्रधानमंत्री की सुरक्षा में गंभीर चूक, फिरोजपुर के SSP सस्पेंड,  पूर्व मुख्यमंत्री amrinder singh ने कहा- पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगे​​​​​​​ !

नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा की चूक मामले में पंजाब (Punjab) सरकार ने फिरोजपुर के एसएसपी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है. इधर गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस चूक के लिए जवाबदेही तय करने और कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है. वहींं, पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (amrinder singh) ने राज्‍य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है. गौरतलब है कि पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को सड़क मार्ग से जाते समय एक फ्लाईओवर पर 15 से 20 मिनट के लिए उस वक्त फंस गए जब कुछ प्रदर्शनकारियों ने रास्ते को रोक दिया. गृह मंत्रालय ने इस घटना को प्रधानमंत्री की सुरक्षा में गंभीर चूक करार दिया है.

पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि चन्नी सरकार राज्य में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने में पूरी तरह विफल रही है. पंजाब लोक कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह ने मीडिया से कहा कि अगर हमें अपने राज्य को सुरक्षित रखना है और यहां कानून-व्यवस्था बनाए रखना है, तो मुझे लगता है कि राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए. मोदी बुधवार को चुनावी राज्य में एक रैली को संबोधित किए बिना लौट आए.

गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब यात्रा के दौरान गंभीर सुरक्षा खामी के बाद उनके काफिले ने लौटने का फैसला किया. बयान में यह भी कहा गया कि मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस चूक के लिए जवाबदेही तय करने और कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है. जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त प्रधानमंत्री बठिंडा से हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक की ओर जा रहे थे. गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से रिपोर्ट मांगी है.

प्रधानमंत्री तय कार्यक्रम के अनुसार, फिरोजपुर में चंडीगढ़ स्थित स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (पीजीआईएमईआर) के उपग्रह केंद्र और दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेसवे सहित 42,750 करोड़ रुपये से अधिक की लागत की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास करने वाले थे. इनमें अमृतसर-ऊना खंड को चार लेन में परिवर्तित करना, मुकेरियां-तलवाड़ा रेल लाइन का आमान परिवर्तन और कपूरथला एवं होशियारपुर में दो नए चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना संबंधी परियोजनाएं भी शामिल थीं. कार्यक्रम के बाद प्रधानमंत्री एक रैली (Punjab Rally) को भी संबोधित करने वाले थे.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।