Jansandesh online hindi news

भारत और चाइना के सैनिक अब अरुणाचल प्रदेश में आमने सामने 

उत्तराखंड के बाराहोती के बाद अब अरुणाचल प्रदेश में चीन के करीब 200 सैनिक तिब्बत की तरफ से भारत की जमीन में घुस आए
 | 
jpg फाइल
किसी को हिरासत में नहीं लिया: सेना

पूर्वी लद्दाख के साथ-साथ चीन अब बॉर्डर पर टकराव के नए मोर्चे खोलता दिख रहा है. उत्तराखंड के बाराहोती के बाद अब अरुणाचल प्रदेश में चीन के करीब 200 सैनिक तिब्बत की तरफ से भारत की जमीन में घुस आए. सूत्रों ने बताया है कि पिछले हफ्ते चीनी सैनिक LAC क्रॉस कर भारत की तरफ आ गए थे.अरुणाचल सेक्टर में एलएसी पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प हुई. यह झड़प कुछ घंटे तक चली. हालांकि कमांडर स्तर की बातचीत के बाद इस मामले को सुलझा लिया गया. हालांकि झड़प की ये घटना पिछले सप्ताह हुई थी. वहीं रक्षा सूत्रों ने कहा कि इसमें कोई नुकसान नहीं हुआ है.

 

भारत और चीन के बीच लद्दाख क्षेत्र में काफी समय से चल रहे तनाव के बीच अब अरुणाचल प्रदेश में भी नियंत्रण रेखा के पास पेट्रोलिंग के दौरान दोनों देशों के सैनिक भिड़ गए. हालांकि कमांडर स्तर की बातचीत के बाद इस मामले को सुलझा लिया गया. हालांकि झड़प की ये घटना पिछले सप्ताह हुई थी. वहीं रक्षा सूत्रों ने कहा कि इसमें कोई नुकसान नहीं हुआ है. 

झड़प को लेकर यह भी सवाल उठ रहे हैं कि क्या पिछले सप्ताह अरुणाचल प्रदेश के यांगत्से के करीब तवांग सेक्टर के पास भारतीय सैनिकों द्वारा पीएलए सैनिकों को हिरासत में लिया गया था. भारत-चीन सीमा का औपचारिक रूप से सीमांकन नहीं किया गया है इसलिए देशों के बीच एलएसी की धारणा में अंतर है. लेकिन दोनों देशों के बीच मौजूदा समझौतों और प्रोटोकॉल के पालन से इन क्षेत्रों में शांति संभव हुई है. 

बता दें कि इससे पहले चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के करीब 100 सैनिक वास्तविक नियंत्रण रेखा का उल्लंघन कर 30 अगस्त को उत्तराखंड के बाड़ाहोती सेक्टर में घुस आए थे और कुछ घंटे बाद वापस लौट गए. हालांकि भारत-तिब्बत सीमा पुलिस ( ITBP) के जवान इस क्षेत्र में तैनात हैं. वहीं जवाबी रणनीति के तहत भारतीय सैनिकों ने क्षेत्र में गश्त की थी.  



किसी को हिरासत में नहीं लिया: सेना 


सेना के सूत्रों ने बताया है कि कुछ घंटे तक फिजिकल इंगेजमेंट के बाद तय प्रोटोकॉल के हिसाब से मसले को सुलझा लिया गया. भारत की तरफ किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ है, किसी को हिरासत में नहीं लिया गया. जबकि कुछ रिपोर्टों में दावा किया जा रहा है कि 200 चीन के सैनिक भारत में घुस आए थे और कुछ देर के लिए चीन के सैनिकों को भारतीय फौज ने हिरासत में लिया था.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।