Jansandesh online hindi news

आज सावन की दुर्गाष्टमी, ऐसे करें माता को प्रसन्न

 | 
Image

 

Sawan Durgashtami 2022 Puja Vidhi Shubh Muhurat। आज सावन के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि (05 अगस्त 2022) को भक्तों द्वारा सावन दुर्गाष्टमी का व्रत एवं विशेष पूजा द्वारा मनाया जाएगा। शुक्रवार होने के कारण दुर्गाष्टमी का महत्व और ज्यादा बढ़ जाता है। इस दिन विशेष तिथि के कारण मां दुर्गा के साथ-साथ भोलेनाथ और मां लक्ष्मी की भी कृपा प्राप्त का अवसर आपको मिला है।

वैसे तो दुर्गाष्टमी हर महीने होती है पर सावन के महीने में पड़ने वाली मासिक दुर्गाष्टमी को शास्त्रों में बहुत ही महत्व दिया गया है। इस दिन सच्चे मन से माता का व्रत रखने और नियमित पूजा करने से मां दुर्गा की विशेष कृपा प्राप्त होती है और घर में सुख-समृद्धि भी आती है।

सावन में पड़ने वाली दुर्गाष्टमी के दिन मां दुर्गा की विधिवत पूजा करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं और सुख-समृद्धि की भी वृद्धि होती है। आइए जानते हैं शुभ मुहूर्त और माता को कैसे करें प्रसन्न-

सावन मासिक दुर्गाष्टमी का शुभ मुहूर्त

अष्टमी 05 अगस्त को सुबह 05 बजकर 06 पर मिनट शुरू हो गई है।

अष्टमी समाप्त 06 अगस्त को सुबह 03 बजकर 56 मिनट पर होगी।

मां को चढ़ाए ये चीज़े

दुर्गाष्टमी के दिन मां के मंदिर में जाकर लाल रंग की चुनरी मां को अर्पित करें। साथ ही कुछ सिक्के मखाने और बताशे भी माता को चढ़ाए। इसके साथ ही आपको माता को मालपुआ और केसर मिश्रित खीर का भोग लगाना चाहिए। श्रृंगार का सामान विवाहिता माता को भेंट करें। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।