Jansandesh online hindi news

Mystery: मछुआरों ने देखा विशालकाय जानवर जिसका आधा शरीर इंसान का

 | 
Iamge

दुनिया में कई तरह के जीव-जंतु रहते निवास करते हैं जिनसे हम आज तक अनजान हैं। वहीं अगर इंसानों की बात करें तो जगह और रहन सहन के हिसाब से लोगों का लुक भी बदल जाता है। जैसे कहीं पर गोरे पाए जाते हैं तो कहीं लोगों का रंग काला होता है।

किसी इलाके में रहने वाले लोगों की आँखें छोटी होती हैं तो कई बार आंखें नॉर्मल से बड़ी होती हैं। 

इंसानों की तरह ही जानवरों के साथ भी ऐसी ही स्थिति देखी जा सकती है पर क्या आप जानते हैं कि ऐसे भी कुछ जीव हैं जो सिर्फ कहानियों में सिमट कर रह गए हैं। जिनकी कल्पना करना भी बहुत कठिन है।

बता दें कि सालों से एक्सपर्ट्स बिगफुट की तलाश में हैं। बिगफुट यानी की वो मानव जो इंसानों से काफी अलग दिखाई देते हैं। सोशल मीडिया पर इनकी कई तस्वीरें और वीडियो कड़ियां मौजूद हैं। पर अभी तक असल में इन्हें कोई ढूंढ न सका है। कई लोग इनको बस कहानियों का ही हिस्सा ही मानते हैं। 

वहीं हाल ही में टेक्सास में कुछ मछुआरों ने बेहद अजीब से जीव को देखने का दावा भी किया है। उन्होंने इस जीव को बिगफुट से भी अलग बताया है। मछुआरों द्वारा दिए डिस्क्रिप्शन के अनुसार इसका आधा शरीर इंसान का और आधा कुत्ते जैसा दिख रहा था।

मछुआरों के दावे के अनुसार ये विशाल सा जीव नदी के किनारे घास में छिपा हुआ था। इसका एक वीडियो भी बनाया गया, जिसे सोशल मीडिया पर शेयर किया गया है और ये बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें दिख रहा जीव बेहद अजीब सा नजर आ रहा है। जहां मछुआरे के डिस्क्रिप्शन के अनुसार ये आधा जानवर और आधा इंसान था।

Image

वहीं एक्सपर्ट्स की माने तो ये सिर्फ एक बड़ा सा बन्दर रहा होगा। 

वायरल वीडियो : इन घटना के दौरान मछुआरे अपनी नाव में थे जबकि ये जीव नदी के किनारे पानी पी रहा था। उन्होंने उसे चार पैरों पर पानी पीते हुए देखा और जैसे ही लोगों की नजर उसपर पड़ी, एक शख्स को बोलते सुना गया कि आखिर ये क्या है? 

इसे देखते ही नाव पर मौजूद एक मछुआरा इसे शूट करने लगा और जब जीव ने देखा कि लोग उसे देख रहे हैं, तो वो वापस बड़ी बड़ी घास में छिप गया। कुछ इसे डॉगमैन भी बता रहे हैं।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।