ये हैं दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, कीमत सुनकर हैरान हो जाएंगे आप

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. रोचक खबरें

ये हैं दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, कीमत सुनकर हैरान हो जाएंगे आप

Image



डेस्क। अधिकतर लोगों की आदत होती है कि सब्जी खरीदते वक्त वो बहुत ही मोल-भाव करते ही हैं। ज्यादा से ज्यादा 5-10 रुपए कम करने से हम खुश भी हो जाते हैं। वहींं,अगर किसी सब्जी का दाम बहुत ऊंचा चला गया हो, तो आप उस सब्जी को नहीं खरीदने में ही अपनी जेब की भलाई भी समझते हैं। इसके साथ ही जैसे, कुछ वक्त पहले टमाटर बहुत ही महंगे हो गए थे, जिसके कारण ज्यादा लोग टमाटर के विकल्पों को गूगल पर सर्च करने लग जाते थे।
वहीं किसी सब्जी का दाम 200-300 रुपए किलो होने पर ही इसे सोने के भाव की तरह बताया जाने भी लगता है, तो सोचिए कि अगर कोई सब्जी 85 हजार रुपए किलो में बिकती हो, तो आप क्या कहेंगे कि यह कोई मजाक तो नहीं है लेकिन आपको यह भी बता दें कि यह बिल्कुल सच है। दुनिया में एक सब्जी ऐसी भी है जिसे इसके अभी तक के दाम को देखते हुए सबसे महंगी सब्जी कहा जा रहा है।
सबसे पहले आपको यह बता दें कि आमतौर पर यह सब्जी भारत में नहीं उगती बल्कि यूरोपीय देशों में मिलती है वहीं  रिपोर्ट्स की मानें, तो सबसे पहले यह सब्जी हिमाचल प्रदेश में उगाई गई थी और यह सब्जी औषधीय गुणों से भरपूर भी होती है।
हॉप शूट्स की फसल का प्रोसेस इतना लम्बा होता है कि इसे कटाई के लिए तैयार होने में पूरे तीन साल लग जाते हैं। वहीं, इसे तोड़ने का काम भी बहुत पेचीदा रहता है। इस पौधे से छोटी-छोटी बल्ब की आकार की सब्जियां तोड़ने में काफी मेहनत भी लगती है। ऐसा माना जाता है कि यह इतने ज्यादा पोषक तत्वों से भरपूर होती है कि कई बीमारियों में इसे इलाज के लिए इस्तेमाल करा जाता है और तभी से इसकी कीमत 85000 किलोग्राम है।
कई मेडिकल स्टडी में यह भी बताया गया है कि इस सब्जी टीबी के खिलाफ एंटीबॉडी बनाने में किया जाता है। वहीं इसके अलावा स्ट्रेस, नींद न आना, घबराहट, चिड़चिड़ापन, बेचैनी और डेफिसिट-हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर (ADHD) का इलाज करने में भी हॉप शूट्स या कॉर्न का इस्तेमाल होता है। और इसके अलावा भी दुनिया की सबसे महंगी सब्जी का इस्तेमाल बीयर बनाने में किया जाता है।
जानिए कैसे खाया जाता है
इस सब्जी का इस्तेमाल कई डिश बनाने में होता है। इसके अलावा स्वाद में तीखी इस सब्जी को कच्चा खाने के अलावा इसका अचार भी बनाया जाता है।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश