Jansandesh online hindi news

जब हॉग से सचिन ने कहा था….

नई दिल्ली | भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर अपने क्रिकेट करियर के दौरान कई बार अपने फैन्स और उन खिलाड़ियों को ऑटोग्राफ दे चुके हैं, जिनके साथ या जिनके खिलाफ वह खेले हैं। और ऐसा ही एक ऑटोग्राफ उन्होंने 2007 में आस्ट्रेलिया के पूर्व चाइनामैन गेंदबाज ब्रैड हॉग को दिया था। पांच अक्टूबर 2007 को
 | 
जब हॉग से सचिन ने कहा था….

नई दिल्ली | भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर अपने क्रिकेट करियर के दौरान कई बार अपने फैन्स और उन खिलाड़ियों को ऑटोग्राफ दे चुके हैं, जिनके साथ या जिनके खिलाफ वह खेले हैं। और ऐसा ही एक ऑटोग्राफ उन्होंने 2007 में आस्ट्रेलिया के पूर्व चाइनामैन गेंदबाज ब्रैड हॉग को दिया था। पांच अक्टूबर 2007 को हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में वनडे सीरीज के तीसरे मैच के दौरान भारत को जीत के लिए 291 रन का लक्ष्य मिला था। सचिन उस मैच में गौतम गंभीर के साथ पारी की शुरुआत करने आए थे और हॉग ने 27वें ओवर में सचिन को बोल्ड कर दिया था।

हॉग ने द संडे ऐज से कहा था कि मैच के बाद वह सचिन के पास उनसे उसी तस्वीर पर ऑटोग्राफ लेने गए थे। सचिन ने बड़ी सादगी से ऑटोग्राफ तो दिया, लेकिन तस्वीर पर यह भी लिख दिया था कि अब वह अगली बार दोबारा कभी उन्हें आउट नहीं कर पाएंगे।

हॉग ने उस समय द संडे ऐज से कहा था, “मैंने उस मैच में उन्हें आउट कर दिया था और फिर उनसे अपने लिए ऑटोग्राफ देने के लिए कहा था। उन्होंने मुझे ऑटोग्राफ दिया और मेरे लिए एक मैसेज भी लिखा, ‘यह फिर कभी दोबारा नहीं होगा। हॉग।”

सचिन की कही हुई बातें बिल्कुल ठीक निकलीं और हॉग फिर उसके बाद कभी दोबारा सचिन का विकेट नहीं ले पाए। लेकिन वह ऑटोग्राफ हॉग के लिए एक कीमती चीज की तरह है।

हॉग ने कहा, “यह थोड़ा कीमती है। यह सचिन तेंदुलकर जैसे खिलाड़ी के साथ मैदान पर खेलना सम्मान की बात है। उन्हें गेंदबाजी करना एक शानदार अनुभव है। अगर मैं वहां हूं, तो मैं उनसे मुकाबला करने और उनके लिए जीवन को कठिन बनाने के लिए हूं।”

युवराज सिंह के शतक के बावजूद भारत को उस मैच में 47 रन से हार का सामना करना पड़ा था।