Jansandesh online hindi news

IPL का बाकी सीजन इंग्लैंड में हो सकता है

दरअसल, टाइट शेड्यूल और भारत में कोरोना की तीसरी लहर आने के अनुमान के बीच टूर्नामेंट भारत में कराना संभव नहीं है। ऐसे में BCCI सितंबर-अक्टूबर में टूर्नामेंट के लिए विंडो तलाश रही है। टूर्नामेंट के बाकी मैच UAE में भी हो सकते हैं। हालांकि इसकी उम्मीद कम है। कोरोना के कारण IPL 2021 सीजन
 | 
IPL का बाकी सीजन इंग्लैंड में हो सकता है

दरअसल, टाइट शेड्यूल और भारत में कोरोना की तीसरी लहर आने के अनुमान के बीच टूर्नामेंट भारत में कराना संभव नहीं है। ऐसे में BCCI सितंबर-अक्टूबर में टूर्नामेंट के लिए विंडो तलाश रही है। टूर्नामेंट के बाकी मैच UAE में भी हो सकते हैं। हालांकि इसकी उम्मीद कम है।

कोरोना के कारण IPL 2021 सीजन को बीच में ही सस्पेंड कर दिया गया। टूर्नामेंट में अब तक सिर्फ 29 मैच हुए और 31 मुकाबले बाकी हैं। इस बीच इंग्लैंड के 4 काउंटी क्लब मिडलसेक्स, सरे, वारविकशायर और लंकाशायर ने टूर्नामेंट कराने का प्रस्ताव रखा है। IPL 2021 सीजन का 30वां मैच कोलकाता और बेंगलुरु के बीच होना था। कोलकाता टीम के 2 खिलाड़ी पॉजिटिव आने के बाद मैच और टूर्नामेंट सस्पेंड कर दिया गया।

IPL और वर्ल्ड कप एक साथ UAE में होना मुश्किल
अक्टूबर में ही भारत को टी-20 वर्ल्ड कप की मेजबानी भी करना है। कोरोना के चलते यह टूर्नामेंट UAE में कराया जा सकता है। इसकी संभावना भी ज्यादा दिख रही है। जानकारों की मानें तो IPL और वर्ल्ड कप एक साथ UAE में होगा तो दूसरे टूर्नामेंट के बीच में ही पिच काफी स्लो हो जाएंगी। ऐसे में एक टूर्नामेंट यानी IPL को इंग्लैंड में कराना ही बेहतर ऑप्शन होगा।

इंडिया को इंग्लैंड में 5 टेस्ट भी खेलना है
इंग्लैंड में टूर्नामेंट होने की उम्मीद ज्यादा जताई जा रही है, क्योंकि भारतीय टीम को 5 टेस्ट की सीरीज के लिए अगस्त में इंग्लैंड दौरे पर जाना है। ऐसे में टीम इंडिया वहीं टेस्ट सीरीज के बाद सितंबर के आखिरी 2 हफ्ते में IPL भी खेल सकती है। फिलहाल, इंग्लैंड में कोरोना का असर कम है। दूसरे देश के खिलाड़ी भी वहां आने से मना नहीं करेंगे।

यदि IPL इस साल नहीं कराया जा सका तो BCCI को इससे 2000 से 2500 करोड़ रुपए का नुकसान हो सकता है। बोर्ड इस टूर्नामेंट को कराने के लिए 20 दिन की विंडो तलाश रहा है।