अब NRI भी पा सकते हैं आधार कार्ड

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. अन्य राज्य

अब NRI भी पा सकते हैं आधार कार्ड

Image


डेस्क। आधार कार्ड भारत में पहचान के लिए सबसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों बन चुका है। वहीं आधार वित्तीय सेवाओं के साथ-साथ सरकारी कार्यक्रमों के लिए भी ये काफी अहम है। साथ ही अलग-अलग सरकारी स्कीम्स के तहत बेनेफिट्स हासिल करने के लिए इसकी जरूरत भी पड़ती है।
बहुत सी सरकारी और निजी अथॉरिटी इन सेवाओं को देने के लिए आधार कार्ड की मांग जरुर करती हैं।
अक्सर यह सवाल पूछा जाता है कि कोई NRI (नॉन-रेजिडेंट इंडियन) आधार कार्ड के लिए अप्लाई कर सकता है या फिर नहीं। साथ ही UIDAI ने कन्फर्म किया है कि मान्य भारतीय पासपोर्ट के साथ कोई एनआरआई किसी भी आधार केंद्र से अप्लाई भी कर सकता है।
इन स्टेप्स को करें फॉलो
सबसे पहले, अपने नजदीकी आधार केंद्र पर जाएं और अपना मान्य भारतीय पासपोर्ट ले जाना भी न भूलें।
इसके बाद एनरॉलमेंट फॉर्म में डिटेल्स को भरें।
NRI के लिए अपनी ईमेल आईडी बताना भी अनिवार्य होता है।
NRI के पंजीकरण के लिए डेक्लरेशन थोड़ा अलग भी होता है और उसे पढ़ें और अपने एनरॉलमेंट फॉर्म पर हस्ताक्षर कर लें।
अपने ऑपरेटर को NRI के तौर पर पंजीकरण करने के लिए भी कहें।
आईडी प्रूफ के लिए, ऑपरेटर को अपना पासपोर्ट दें फिर
आईडी प्रूफ देने के बाद, बायोमेट्रिक प्रक्रिया को पूरा कर लीजिए।
ऑपरेटर को सब्मिट करने से पहले, स्क्रीन पर सभी डिटेल्स को वेरिफाई कर लीजिए 
14 डिजिट की एनरॉलमेंट आईडी और तारीख और समय की स्टैंप वाली रिसिप्ट या एनरॉलमेंट स्लिप को सेव कर के रख लें।
इसके अलावा आपको बता दें कि अभी हाल ही में यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस (IVR) तकनीक पर एक नई कस्टमर सर्विस भी शुरू की है।
 यह सेवा 24×7 मुफ्त उपलब्ध भी होगी। UIDAI ने ग्राहकों की मदद के लिए 1947 नंबर तक जारी किया है। यह हेल्पलाइन नंबर लगभग 12 भाषाओं में काम भी करता है और इसलिए देश के किसी भी राज्य के लोग इस नंबर पर कॉल करके संपर्क भी कर सकते है और अपनी समस्या का समाधान भी कर सकते हैं।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश