PF चेक करने में शख्स ने कर दी ये गलती, 1.23 लाख रुपये की लगी चपत

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. अन्य राज्य

PF चेक करने में शख्स ने कर दी ये गलती, 1.23 लाख रुपये की लगी चपत

Image


डेस्क। बैंक में बैलेंस चेक करने के चक्कर में एक शख्स को पूरे 1.23 लाख रुपये की चपत लग गई। वहीं अगर आप भी समय-समय पर अपना पीएफ अकाउंट चेक करते रहते हैं तो यह खबर आपके काफी काम की साबित हो सकती है। वहीं आपके लिए ये जानना भी बेहद जरूरी है कि आखिर इस शख्स ने क्या गलती कर दी थी कि आप आगे उसे बिलकुल न दोहराए।
वहीं इस शख्स ने अपना पीएफ बैलेंस चेक करने के लिए गलत तरीका चुन लिया था। और अब सवाल ये उठता है कि आखिर आप अपना PF बैलेंस कैसे चेक करते हैं? तो आपको यह भी बता दें कि, EPFO मेंबर्स कई तरीकों से पीएफ बैलेंस चेक कर सकते हैं। 
इसके लिए वे ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट, उमंग ऐप, SMS सर्विस आदि पर भी जा सकते हैं। वहीं आपको SMS या मिस्ड कॉल के माध्यम से अपना पीएफ बैलेंस चेक करते समय थोड़ा सावधान भी रहने की जरूरत है। साथ ही आपको उस नंबर के बारे में सुनिश्चित होना चाहिए जो आप टाइप कर रहे हैं। पर आखिर में 47 साल के इस शख्स को PF Balance चेक करते समय 1.23 लाख रुपये की चपत कैसे लगी। 
वहीं ये शख्स एक निजी कंपनी के लिए एक मुनीम के रूप में भी काम करता है और अपने पीएफ बैलेंस चेक करने के लिए ईपीएफओ के हेल्पलाइन नंबर के लिए इंटरनेट ब्राउज भी कर रहा था वहीं जब वह एक फर्जी हेल्पलाइन नंबर पर आया तो फ्री प्रेस जर्नल की एक रिपोर्ट के अनुसार, हेल्पलाइन नंबर के रूप में इंटरनेट पर लिस्टेड फर्जी नंबर ने उसकी मदद करने के बहाने उसे रिमोट एक्सेस ऐप डाउनलोड करने के लिए प्रेरित किया है और 14 अलग-अलग ट्रांजैक्शन में 1.23 लाख रुपये भी लूट लिए।
बता दें रिपोर्ट के मुताबिक, शख्स ने अपने फोन पर ईपीएफओ की वेबसाइट खोलने की कोशिश करी है। पर वह लोड नहीं हुआ। इसके बाद उसने पीएफ के कस्टमर सर्विस नंबर के लिए इंटरनेट का सहारा भी लिया। हेल्पलाइन के अधिकारी ( जो कि फर्जी था) ने उसकी मदद करने के बहाने उससे अपने फोन पर रिमोट एक्सेस ऐप डाउनलोड करने के लिए कहा। उस व्यक्ति ने फर्जी अधिकारी के साथ 9 अंकों का एक कोड शेयर भी कर दिया। पुलिस ने यह भी कहा कि जालसाज ने उस व्यक्ति को पीएफ बैलेंस चेक करने की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए प्रारंभिक भुगतान करने के लिए अपने ई-पेमेंट गेटवे सिस्टम में लॉग इन करने को कहा है।
वहीं सभी ईपीएफओ मेंबर्स को सलाह भी दी जाती है कि वे इंटरनेट पर मौजूद नंबरों पर संपर्क न करें और किसी भी व्यक्ति को कुछ महत्वपूर्ण डिटेल्स भी प्रदान न करें। आप हमेशा EPFO की ऑफिशियल वेबसाइट पर दिए डेटा का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
वहीं अब आपको बता दें कि ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर आपको जाना होगा या लिंक - www.epfindia.gov.in पर भी क्लिक कर सकते हैं। वहीं इसके बाद 'Our services' टैब चुनें और 'For employees' पर क्लिक कर सकते हैं। अब 'Member Passbook' पर क्लिक करें और अपना UAN और पासवर्ड यहां दर्ज करें। ऐसा करने के बाद, आप अपनी पासबुक देख सकेंगे और यह भी ध्यान दिया जाना चाहिए कि जिन लोगों ने एक से अधिक संगठनों में काम किया है, उनके पास इसे चुनने के लिए अलग-अलग मेंबर आईडी भी हैं।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश