Jansandesh online hindi news

दहेज के लिए एक और बेटी की निर्मम हत्या, शव को बिना उसके माता-पिता को सूचना दिए जलाया

 | 
दहेज के लिए एक और बेटी की निर्मम हत्या, शव को बिना उसके माता-पिता को सूचना दिए जलाया

रिपोर्ट अभिमन्यु शुक्ला जिला ब्यूरो

औरैया

औरैया सदर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम दहगांव में की गई एक नवविवाहित की हत्या, हत्या कर शव को बिना नवविवाहिता के परिजनों को सूचना दिए जला भी दिया गया, नवविवाहिता के पिता रामरिख पुत्र श्री स्वर्गीय गोकुल जाति ब्राह्मण जनपद हरदोई के थाना बेनीगंज ग्राम नवादा लोचन का निवासी है। प्रार्थी ने अपनी पुत्री सोमवती उम्र 20 वर्ष की शादी प्रार्थी ने अपने सामर्थ्य के अनुसार दान दहेज देकर करीब ₹200000 की शादी की थी। 1 साल 10 माह पूर्व सन् 2019 में दिव्या को थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम नवादा पोस्ट देहगांव थाना दिबियापुर निवासी श्री राम आसरे शर्मा के पुत्र गंगाराम उर्फ दिनेश के साथ की थी, दहेज के भूखे भेड़िए बेटी सोमवती को यह कहकर ताने मारने लगे, कि सालों ने कुछ नहीं दिया और एक लाख रुपए की मांग करने लगे।

पैसों के अतिरिक्त मोटरसाइकिल स्प्लेंडर की मांग करने लगे तथा कहने लगे कि यदि तुम्हारे माता-पिता ने हमारी बात की पूर्ति ना की तो हम तुम्हें जान से मार देंगे, यह बात बेटी से दिनांक 30 -11 -2021 को फोन पर हुई, पिता ने बेटी को समझाया कि हम अपने साथ कुछ लोग लेकर दमाद व घरवालों को समझाएंगे, लेकिन हमारे देहगांव आने से पहले ही, सास आशा देवी ननद आरती देवी पति गंगाराम और दिनेश तथा देवर सनी ससुर रामाश्रय ने एक साथ मिलकर पुत्री को बुरी तरह मारपीट कर प्रताडि़त किया और हम सभी ससुराली जनों को गाली गलौज कर पुत्री की हत्या कर दी तथा ग्राम निवासी इंद्रपाल प्रधान पुत्र छेदा लाल व मुकेश पुत्र श्याम सुंदर सिंह पुत्र कल्लू प्रसाद तथा छोटे पुत्र राम सिंह आदि ने ससुराली जनों का सहयोग कर प्रार्थी को बिना सूचना दिए पुलिस थाने में अवगत कराया और लाश को जला कर सबूत नष्ट करने के इरादे से उसे जलाकर राख कर दिया, प्रार्थी जब ग्राम निवाद से देहगांव आ गया तो सारी जानकारी कर पुलिस को सूचना दी,रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने मौका मुआयना किया और मुकदमा दर्ज किया गया।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।