Jansandesh online hindi news

रायपुर क्षेत्र से भाजपा विधायक उमेश शर्मा काऊ : अपनी पीड़ा राष्ट्रीय नेतृत्व के सम्मुख रख चुके हैं वही निर्णय लेगा

 | 
रायपुर क्षेत्र से भाजपा विधायक उमेश शर्मा काऊ : अपनी पीड़ा राष्ट्रीय नेतृत्व के सम्मुख रख चुके हैं वही निर्णय लेगा

देहरादून

रायपुर क्षेत्र से भाजपा विधायक उमेश शर्मा काऊ ने कहा कि वह अपनी पीड़ा राष्ट्रीय नेतृत्व के सम्मुख रख चुके हैं और अब वही निर्णय लेगा। साथ ही कहा कि यदि कोई निर्णय नहीं हुआ तो हमारा भी अपना समूह है और हम सब मिलकर फैसला लेंगे। दिल्ली से लौटने के बाद मंगलवार को देहरादून में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान मीडिया से बातचीत में उन्होंने ये बातें कहीं।

रायपुर विधानसभा क्षेत्र में शनिवार को मुख्यमंत्री के कार्यक्रम से ठीक पहले कैबिनेट मंत्री डा धन सिंह रावत की मौजूदगी में क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा काऊ और पार्टी कार्यकर्त्‍ताओं के मध्य हुई तू तू-मैं-मैं सुर्खियों में रही थी। इसके बाद विधायक काऊ दिल्ली चले गए थे। वहां उन्होंने रविवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष, उत्तराखंड प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम से मुलाकात की। सोमवार को उन्होंने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और उत्तराखंड से राज्यसभा सदस्य एवं भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी से मुलाकात की।

मंगलवार को मीडिया से बातचीत के दौरान पूछे जाने पर विधायक काऊ ने कहा कि दिल्ली जाकर अपने परिवार से मिलना गुनाह थोड़े ही है। उन्होंने कहा कि भाजपा हमारा परिवार है और परिवार के मुखिया से बात करना हमारा कर्तव्‍य भी है। काऊ ने कहा कि उन्होंने अपनी पांच साल की पीड़ा से केंद्रीय नेतृत्व को अवगत कराया है। पार्टी के जिन नेताओं से पांच मिनट मिलना भी मुश्किल होता है, उनके द्वारा एक-एक घंटे का समय देकर बात सुनी गई। साथ ही न्याय देने का भरोसा दिलाया गया। यह उनके परिवार का मामला है।

विधायक काऊ ने कहा कि अपनी पीड़ा के संबंध में वह प्रांतीय नेतृत्व के साथ सरकार को भी अवगत करा चुके हैं। अब राष्ट्रीय नेतृत्व को इस बारे में बताया है। अब निर्णय राष्ट्रीय नेतृत्व को लेना है। विधायक काऊ ने कहा कि वह अपने साथी मंत्री, विधायकों को भी दर्द बता चुके हैं। वे जो भी निर्णय लेंगे वह उनके साथ चलूंगा।

  • पुष्कर सिंह धामी (मुख्यमंत्री, उत्तराखंड) ने कहा कि कहीं कोई नाराजगी नहीं है। मैने इस मसले पर विधायक उमेश शर्मा से बात कर ली हैं। कही कोई समस्या है तो मिल-बैठ कर हल कर लेंगे।
  • डा धन सिंह (स्वास्थ्य मंत्री) ने कहा कि पार्टी ने पूरे मसले पर प्रदेश महामंत्री को जांच सौंपी है। यह मसला वही देखेंगे। इस पर वह सभी पक्षों से बातचीत कर निर्णय लेंगे।
  • प्रीतम सिंह (नेता प्रतिपक्ष) ने कहा कि राजनीति में कभी किसी दल के दरवाजे बंद नहीं होते। परिस्थितियां आती हैं, तो शीर्ष नेतृत्व जो निर्णय लेगा, उस पर अमल किया जाएगा।

चर्चा में रही विधायक उमेश शर्मा की गतिविधियां

मंगलवार को विधायक उमेश शर्मा काऊ स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रम में उपस्थित थे। इस दौरान वह काफी देर तक कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और विधायक काजी निजामुद्दीन से चर्चा में मशगूल दिखे। इसके कुछ समय बाद जैसे ही मुख्यमंत्री का उद्बोधन शुरू हुआ तो वह मीडिया से बातचीत को बाहर आ गए।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।