Jansandesh online hindi news

भोपाल के हमीदिया अस्पताल में शुरू हुई किडनी ट्रांसप्लांट की सुविधा

प्रदेश के हमीदिया सरकारी अस्पताल में पहली बार किडनी ट्रांसप्लांट किया गया
 | 
jpg फाइल
फ्री में हुआ ऑपरेशन

भोपाल | एमपी (First Kidney Transplant In MP) के सरकारी अस्पतालों में अभी तक किडनी ट्रांसप्लांट की सुविधा नहीं थी। भोपाल के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में हमीदिया में यह सुविधा शुरू हो गई है। प्रदेश के हमीदिया सरकारी अस्पताल में पहली बार किडनी ट्रांसप्लांट किया गया है। इसके लिए चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने हमीदिया अस्पताल पहुंचकर डॉक्टरों की टीम को बधाई दी है।
 



किडनी ट्रांसप्लांट के बाद डोनर और मरीज दोनों स्वस्थ हैं। चार घंटे तक किडनी ट्रांसप्लांट का काम चला है। डोनर और रिसीवर को सुबह अस्पताल में ले जाया गया था। दोपहर ढाई बजे तक ऑपरेशन सफल तरीके से संपन्न हो गया। डॉक्टरों की टीम ने ऑपरेशन के बाद दोनों को आईसीयू में शिफ्ट कर दिया है, जहां दोनों की हालत स्थिर बनी हुई है। डॉक्टरों की टीम दोनों की निगरानी कर रही है। 


 


 

वहीं, उस उपलब्धि पर मंत्री विश्वास सारंग ने डॉक्टरों की टीम को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि एमपी के किसी सरकारी अस्पताल में पहली बार सफलता पूर्वक किडनी ट्रांसप्लांट हो गया है। साथ ही उन्होंने घोषणा की है कि किडनी ट्रांसप्लांट के लिए नए ऑपरेशन थिएटर बनाए जाएंगे। इसके साथ ही मंत्री ने कहा कि प्रदेश के दूसरे मेडिकल कॉलेजों में भी किडनी ट्रांसप्लांट की सुविधा शुरू की जाएगी। 

फ्री में हुआ ऑपरेशन 


वहीं, मरीज को किडनी ट्रांसप्लांट के लिए कोई भुगतान नहीं करना पड़ा है। आयुष्मान कार्ड होने की वजह से मरीज का इलाज पूरी तरह से फ्री में किया गया है। वहीं, सामान्य लोगों को इस ऑपरेशन के लिए ढाई लाख रुपये खर्च करने पड़ेंगे। वहीं, प्राइवेट अस्पताल में करीब चार से पांच लाख रुपये का खर्चा इसके लिए आता है। हमीदिया प्रबंधन ने कहा है कि कई और लोगों ने किडनी ट्रांसप्लांट के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।