Jansandesh online hindi news

झारखंड विधानसभा में नमाज का काउंटिंग करने के विरोध में भाजपा के द्वारा किए गए घेराव में पुलिस द्वारा लाठीचार्ज

 | 
झारखंड विधानसभा में नमाज का काउंटिंग करने के विरोध में भाजपा के द्वारा किए गए घेराव में पुलिस द्वारा लाठीचार्ज

शेखर की रिपोर्ट

झारखंड विधानसभा में नमाज का आवंटन करने के विरोध में भाजपा के विधानसभा घेराव का आज चौथा दिन था आपको बताते जाए कि भाजपा विधानसभा घेराव करने के लिए हजारों की संख्या मैं विधानसभा को घेरने के लिए रांची  गए थे विधानसभा के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं भाजपा नेता पर अचानक से पुलिस ने लाठीचार्ज किया जिसके बाद वहां भगदड़ मच गई लाठी उस वक्त चार्ज हुआ जब बीजेपी कार्यकर्ता में विधानसभा के बाहर जगन्नाथ मंदिर के पीछे बने दूसरे बैरिकेडिंग को भी तोड़ दिया भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं को हटाने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज करके बाद वाटर कैनन से पानी का बौछार भी की जिसके बाद भाजपा नेता व कार्यकर्ता तितर-बितर हो गए लाठीचार्ज की घटना के बाद भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी और प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश समेत अन्य नेता सड़क पर बैठकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं

आपको बताते हैं जाएगी वही 2:15 में नीलकंठ मुंडा ने सदन में उठाया लाठीचार्ज का मामला विधानसभा के भाजपा नेता और कार्यकर्ता पर लाठीचार्ज की घटना पर भाजपा विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा ने सदन में आवाज उठाया लोकतंत्र को दबाने की कोशिश के खिलाफ भाजपा की नेता कार्यकर्ता लाठी गोली खाकर भी डटे रहे । 2.20 मिनट में विधानसभा धरने पर बैठे भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उन्हें उन्होंने कहा कि सरकार ने शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं के साथ बराबर सलूक किया है उन्होंने कहा कि रांची के एसएसपी एसके झा की अपील कार्यकर्ता बैरिकेडिंग से आगे नहीं बड़े भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी कार्यकर्ताओं के साथ लाठीचार्ज के खिलाफ विश्व परिषद में अटल बिहारी वाजपेई की प्रतिमा के पास धरने पर बैठे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि उन्हें लाठी से पीटा गया और साथ ही साथ उन पर काफी उन्हें काफी चोट भी लगी है

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।