Jansandesh online hindi news

किसानों को रासायनिक खाद एवं विधुत आपूर्ति सम्बंधित 9 सूत्री मांगों को लेकर जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा 

 | 
किसानों को रासायनिक खाद एवं विधुत आपूर्ति सम्बंधित 9 सूत्री मांगों को लेकर जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा 

निखिल कश्यप की रिपोर्ट 

किसान मोर्चा का धरना आंदोलन कल बालोद  जिले में किसानों को सुचारू रूप से रासायनिक खाद एवं विधुत आपूर्ति करने  राज्य सरकार के नाम 9 सूत्री मांगों को लेकर जिला कलेक्टर को  भाजपा किसान मोर्चा द्वारा  कल ज्ञापन सौंपा गया जिसमें 36 घंटे का अल्टीमेट जिला प्रशासन को दिया गया था मांग पूर्ण न होने पर 16 तारीख को  धरना प्रदर्शन किया जाएगा इसी परिपेक्ष मे किसानं मोर्चा द्वारा प्रदेश एवं जिला नेतृत्व के मार्गदर्शन में धरना कार्यक्रम  बालोद मुख्यालय जय स्तंभ चौक समय 12:00 बजे से आयोजित है . 
जिला अध्यक्ष तोमन साहू ने इस धरना आंदोलन के  संबंधब मे ताया कि छत्तीसगढ़ एक कृषि प्रधान प्रदेश है। जहाँ के आधे से अधिक आबादी कृषि से जुड़ा हुआ है। धान उत्पादन में छत्तीसगढ़ राज्य देश की भूमिका सबसे अग्रणी राज्यों रही है। पूरे देश मे छत्तीसगढ़ की पहचान धान का कटोरे के रूप में विख्यात है ।

प्रदेश में खेती-किसानी का कार्य प्रारंभ हो चुका है।  जैसा कि हम सभी जानते है कि खेतों में फसल के अधिक उत्पादन के लिए खाद डालने की आवश्यकता पड़ता है। लेकिन आज प्रदेश के किसानों को खाद की संकट से गुजरना पड़ रहा है। जबकि केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकार को जरूरत के अनुरूप बराबर खाद पहुंचाया जा रहा है बावजूद इसके राज्य सरकार द्वारा  खाद को उचित मात्रा में सहकारी समितियों को आबंटित नहीं किया जा रहा है, बल्कि राज्य सरकार अपने नजदीकी व्यापारियों को लाभ पहुंचाने की दृष्टि से निजी क्षेत्रों को आबंटित कर रही है।

जिले के सहकारी समितियों में किसानों के सामने खाद संकट है। लेकिन प्रदेश के निजी दुकानों खुले बाजार में खाद पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। जिससे यह साफ प्रतीत होता है कि राज्य सरकार द्वारा सहकारी समितियों के बजाए निजी क्षेत्रों को खाद की आपूर्ति अधिक की गई है। निजी क्षेत्रों को अधिक खाद आबंटित करने के पीछे राज्य सरकार की मंशा केंद्र सरकार को बदनाम करने की साजिश व अपने लोगो लो लाभ पहुंचाकर भ्रष्टाचार करना है। निजी दुकानों से यह खाद किसानों को अधिक दाम में खरीदना पड़ रहा है।
प्रदेश  भाजपा किसान मोर्चा मंत्री पवन साहू ने बताया की साथ ही किसान भाइयों को विधुत पर्याप्त मात्रा में नही मिलने से धान का थरहा आज सुख रहा है एवं खेतों में पर्याप्त पानी नही होने से जिन किसान भाइयों का धान का थरहा तैयार हो गया है रोपाई के लिय आज अघोषित बिजली कटौती से परेशान हो कर अपने धान के रोपाई करने से वंचित हैं!

किसान भाइयों को सहकारी समितियों के माध्यम से पर्याप्त खाद मिल सके। ऐसी व्यवस्था हेतु राज्य सरकार को निर्देशित करें साथ ही समय-समय पर केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जा रही खाद के राज्य सरकार द्वारा आबंटन का निगरानी भी रखें। जिससे उचित मात्रा में खाद की नियमित आपूर्ति किसान भाइयो हो सके. जिला महामंत्री द्वय हेमंत साहू मनोहर सिन्हा ने इस धरना प्रदर्शन में समस्त प्रदेश जिला मंडल विभिन्न प्रकोष्ठ  पदाधिकारी गण जनप्रतिनिधि गण जेस्ट श्रेष्ठ  कार्यकर्ता गण की  अधिक से अधिक संख्या में उपस्थिति प्रदान कर को सफल बनाने की अपील की है