Jansandesh online hindi news

पीड़िता के परिजन ने कहा रक्षक ही भक्षक बन गया 

 | 
रक्षक ही भक्षक बन गया कहा पीड़िता के परिजन ने कहा

बोकारो से शेखर की रिपोर्ट

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ यह योजना पूरे देश भर में चल रहा है मगर झारखंड शहर में ना तो बेटी सुरक्षित है ना तो बेटी को पढ़ाया जा रहा है ऐसे में लोगों का कहना है कि बेटी को लेकर जाए तो कहां जाए आए दिन बेटियों के साथ हो रहे अत्याचार चाहे वह दुष्कर्म का मामला हो या दहेज को लेकर बेटी को जलाना या बेटी का पलायन करना ऐसे में ही मानव को  शर्मशार करने की घटना धनबाद जिले से सामने आयी है एंबुलेंस चालक पर मरीजों की जान बचाने के लिए नियत समय पर अस्पताल पहुंचाने की जिम्मेवारी होती है ऐसे मे एंबुलेंस ड्राइवर ही शैतान बन जाए तो भला मरीज क्या करेगा घटना दिनांक रविवार की देर रात एएनएमएमसीएच के फीमेल मेडिकल वार्ड में इलाज रथ विक्षिप्त युवती के साथ दुष्कर्म होने का मामला प्रकाश में आया है।

रविवार सोमवार की देर रात एक एएनएमएमसीएच की फीमेल मेडिकल वार्ड में इलाज रथ अर्थ विक्षिप्त युवती को निजी एंबुलेंस चालक संजय दत्त ने अपनी हवस का शिकार बनाया वार्ड में भर्ती मरीजों ने बताया कि युवती को रात की अंधेरी में संजय दास नामक निजी एंबुलेंस चालक ने बहला-फुसलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया जिसके बाद काफी हो-हल्ला हुआ मामले की सूचना पाकर सराय ढेला पुलिस अस्पताल पहुंची और घटना की बाबत छानबीन किया इसी बीच आरोपी फरार हो गया जबकि अस्पताल परिसर में ही चाय बेचने वाला एक दुकानदार को पुलिस ने आरोपी का सहयोग करने के मामले में हिरासत में ले लिया है वहीं घटना के बावत छानबीन चल रही है जबकि अस्पताल के वरीय अधिकारी मामले में कुछ भी बताने से अभी बच रहे हैं