Jansandesh online hindi news

बस आप सोचे और काम हो जाए : गूगल बना रहा ऐसी टेक्नोलॉजी

 | 
Image

डेस्क। आप एक ऐसी दुनिया की कल्पना करें जहां आपका टीवी उस फिल्म या शो को अपने आप रोक देता क्योंकि आप पॉपकॉर्न का लाने के लिए गए हुए हैं, और जब आप वापस लौटते हैं तो वो अपने आप ही चालू हो जाता है। या एक ऐसे कंप्यूटर के बारे में सोचे जो आपको महसूस करता है कि आप काम पर तनावग्रस्त हैं, अपसेट है तो वो कुछ रिफ्रेश, कुछ मधुर और सुकून देने वाली धुनें बजाना शुरू कर देते हैं? खैर, ये विचार जितने भविष्यवादी लगते हैं।

पर आपको बता दे अब ऐसी टेक्नोलॉजी आ चुकी है। Google वास्तव में एक नई प्रणाली पर काम कर रहा है, जो कैमरों का उपयोग किए बिना उपयोगकर्ताओं के व्यवहार को रिकॉर्ड करके उनका विश्लेषण करती है और फिर रियेक्ट करती है। ये सुनने में कुछ रोबोटिक डिवाइस जैसा ही लगता है।

Image

यह तकनीक आपके शरीर की गतिविधियों को पढ़ने और आपके मूड और इरादों को समझने के लिए रडार का उपयोग करती है, और फिर उसके अनुसार कार्य करती है।

Image

इस टेकनीक को लेकर ज्यादा खुलासे तो नहीं हुए लेकिन यह बताया गया है कि यह रडार डटेक्ट सिस्टम पर काम करके, सिस्टम को निर्देश भेजता है। पर अभी इसकी पूर्णता पुष्टि नहीं हुई है। उदाहरण के लिए, एक कंप्यूटर बिना बटन दबाए बूट हो सकता है। टीवी सोने के बाद आटोमेटिक बंद। यदि Google इस तकनीक को अंतिम रूप देने और इसे मुख्य धारा में लाने में सक्षम है, तो यह स्वचालन के लिए एक बड़ी जीत होगी।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।