अब लगेगी ओटीटी की मनमानी पर लगाम कानून के दायरे में आएगा व्हाट्सएप टेलीग्राम

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. Tech खबरें

अब लगेगी ओटीटी की मनमानी पर लगाम कानून के दायरे में आएगा व्हाट्सएप टेलीग्राम

अब लगेगी ओटीटी की मनमानी पर लगाम कानून के दायरे में आएगा व्हाट्सएप टेलीग्राम


Technology - अभी तक सोशल मीडिया प्लेटफार्म अपनी मर्जी के मालिक थे। लेकिन अब उनकी मनमानी नही चलेगी। क्योंकि सोशल मीडिया प्लेटफार्म और ओटीटी प्लेटफार्म पर लगामा कसने के लिए सरकार नया टेलीकॉम ड्राफ्ट बिल लेकर आ रही है। 

 संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा ने इस परिपेक्ष्य में कहा की नया बिल आने से टेलीकॉम कम्पनी को मजबूती से खड़ा किया जाएगा और यह इनोवेशन को बढ़ावा देगा और इससे तकनीकी के उपयोग में बेहतरी आएगी।
पब्लिक अफेयर्स फोरम ऑफ इंडिया के एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए दूर संचार मंत्री ने कहा कि हम 2 साल के भीतर सोशल मीडिया सम्बंधित सभी नियमो को लागू करने में सक्षम होंगे और उसकी गरिमाओ पर काम करेंगे। इस ड्राफ्ट को लाने का एकमात्र उद्देश्य समाज मे संतुलन बनाए रखना और अनुचित चीजो के प्रभाव से समाज को बचाना है।
उन्होंने कहा, आगमी समय मे हम विकास के पथ पर आगे बढ़ रहे हैं। यह विकास हमे एक नई दुनिया से जोड़ेगा। हर कोई अब इन्वेस्टमेंट से जुड़ रहा है। हमारा व्यापार अब तकनीकी पर निर्भर है। हम बड़ी बड़ी मीटिंग सोशल मीडिया प्लेटफार्म व्हाट्सएप, जूम, गूगल मीट , टेलीग्राम के माध्यम से करते हैं। इस लिए यह अब हमारे जीवन का हिस्सा है इसको संतुलित करने की आवश्यकता है।
उन्होंने बताया इस नए बिल में ओटीटी प्लेटफार्म को भी शामिल किया गया है। बहुत सारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म नियमित रूप से काम नही कर रहे थे। वह असंतुलित थे उन्हें इस बिल में इसलिए लाया गया है कि उन्हें संतुलित किया जा सके। वह लोगो के मध्य उचित चीजो को प्रस्तावित कर सके।
मंत्रालय ने किसी दूरसंचार या इंटरनेट प्रदाता द्वारा अपना लाइसेंस सरेंडर करने की स्थिति में शुल्क वापसी के प्रावधान का भी प्रस्ताव किया है. 
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश