Jansandesh online hindi news

दुनिया में इतने लोग संस्कृत भाषी की Google को Tanslate में करना पड़ा ऐड

 | 
Image

डेस्क। हिंदी बीमार है और संस्कृत भाषा अपने अंत के निकट है। इसका मुख्य कारण यह भी है कि बढ़ता निजीकरण और डिजिटलाइजेशन सिर्फ वेस्टर्न भाषाओं को ही प्राथमिकता देता है। परंतु इसी कड़ी में गूगल ने कुछ ऐसा किया है जिसने संस्कृत प्रेमियों के दिलो को जीत लिया है। कंपनी ने अपने एक इवेंट में कई डिवाइसेज को लॉन्च किया है। साथ ही इस इवेंट में कंपनी ने Google Translate में 24 नई लैंग्वेज को स्थान देने की बात कही। 

Google I/O 2022 में कंपनी ने कई नए फीचर्स और डिवाइस को पेश करते हुए संस्कृत भाषा को गूगल ट्रांसलेशन में ऐड करने की घोषणा की। 

Google ने अपने ट्रांसलेशन टूल में कई लैंग्वेज को अपडेट किया है। इसमें 24 नए लैंग्वेज को ऐड किया गया है। अब Google Translate में टोटल 133 लैंग्वेज हो जाएंगी।

शामिल की गई 24 भाषाओं में असमिया, भोजपुरी, संस्कृत समेत कई भाषाएं शामिल हैं। बता दें कि संस्कृत भारत में करीबन 20,000 लोगों द्वारा उपयोग की जाने वाली भाषा है।

इन ऐड की गई नई भाषाओं को लेकर गूगल ने कहा कि इन्हें Zero-Shot Machine Translation के जरिए ऐड किया गया है। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।