यूपी में नगर निकाय चुनाव से पहले बदले गए चौराहों के नाम

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. उत्तर प्रदेश

यूपी में नगर निकाय चुनाव से पहले बदले गए चौराहों के नाम

Image


डेस्क। उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनाव के ऐलान से ठीक पहले नाम बदलने की कवायद फिर से तेज हो गई है। वहीं गोरखपुर नगर निगम के बाद अब लखनऊ नगर निगम ने कई चौराहों और पार्कों के नाम बदल दिए हैं। बता दें की लालबाग तिराहा अब सुहेलदेव राजभर तिराहा तो मोहन भोग चौराहे से कोठारी बंधु तक सड़क का नाम कल्याणेश्वर हनुमान मंदिर मार्ग दे दिया गया है। 
इसके साथ ही विराम खण्ड राम भवन चौराहा अब शहीद मेजर कमल कालिया चौराहा कहलाएगा तो बर्लिंगटन चौराहा अब अशोक सिंघल चौराहा होगा। मिनी स्टेडियम अब सुरेश श्रीवास्तव स्टेडियम और टेढ़ी पुलिया अब खालसा चौक के नाम से जाना जाएगा। तिकोनिया पार्क का नाम अब श्यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क होगा। 
साथ ही सिकंदराबाद चौराहा अब वीरांगना उदादेवी वार्ड, संजय गांधीपुरम चौराहा और चंद्रशेखर आज़ाद चौराहा और आजाद नगर कॉलोनी पार्क मंगल पांडेय पार्क के नाम से जाना जाएगा। आशियान स्थित एमएमडी1/237 दर्शन सिंह के घर के सामने पार्क का नाम गुरु नानक पार्क कर दिया गया है।
वहीं लखनऊ नगर निगम ने सिर्फ चौराहों या पार्कों के नाम नहीं बदले बल्कि कुत्ता या गाय पालने की फीस भी बढ़ा दी है। नगर निगम से मिले लेटेस्ट अपडेट के अनुसार गाय पालने के लिए 30 रुपये रजिस्ट्रेशन शुल्क लिया जाता था, लेकिन अब गौपालकों को इसके लिए 500 रुपये चुकाने होंगे। वहीं इसके साथ ही एक साल तक की बछिया-बछड़े का भी पंजीकरण करवाना पड़ेगा।
बता दें कि लखनऊ नगर निगम ने देसी नस्ल के डॉग की रजिस्ट्रेशन फीस 200 से बढ़ाकर 500 रुपये और विदेशी नस्ल के डॉग की रजिस्ट्रेशन फीस 500 से बढ़ाकर 1000 रुपये कर दी है। 
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश