मंदिर के नीचे फर्श के चारों ओर भगवान राम की लगेंगी प्रतिमाएं, अमिताभ बच्चन निभा रहे विशेष भूमिका

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. उत्तर प्रदेश

मंदिर के नीचे फर्श के चारों ओर भगवान राम की लगेंगी प्रतिमाएं, अमिताभ बच्चन निभा रहे विशेष भूमिका

Image


डेस्क। श्रीरामलला का गर्भगृह धीरे-धीरे आकार लेता दिखाई दे रहा है। इसी के साथ पूरे परिसर को आकर्षक और राममय बनाने की योजना पर नित काम भी किया जा रहा है। वहीं इस कड़ी में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के मुताबिक मंदिर के चारों ओर प्लेटफार्म के लोवर प्लिंथ यानी मंदिर के नीचे की फर्श के चारों ओर भगवान राम के जीवन प्रसंगों की 100 मूर्तियां लगाई जाएंगी।  
इस कड़ी में हर एक मूर्ति 6 फीट लंबी ,5 फीट ऊंची और ढाई फीट मोटी भी होगी। उन्होंने यह भी बताया कि वाल्मिकी रामायण से 300 प्रसंग छांटे गए थे और अंत में ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंद देव गिरी ने 100 प्रसंगों को स्वीकार कर लिया है। उन्होंने यह बताया जल्द ही मूर्तियां बननी शुरू हो जाएंगी। पर यह कब तक बनकर तैयार हो पाएंगी यह अभी बता पाना काफी मुश्किल है। 
वहीं इस कड़ी में चंपत राय ने बताया मंदिर के 500 साल के इतिहास पर दूरदर्शन के द्वारा एक फिल्म भी बनाई जानी है। इस काम का भी कोऑर्डिनेशन डॉ सच्चिदानंद जोशी करने वाले हैं ।उनके साथ डॉ चंद्रप्रकाश द्विवेदी भी है। फिल्म में सदी के महानायक अमिताभ बच्चन की आवाज सुनाई देगी वहीं उन्होंने बताया इन लोगों ने अपनी निशुल्क सेवाएं देने की बात भी कही है। फिल्म की स्क्रिप्ट लिखने और पढ़ने के लिए फिल्म में सेंसर बोर्ड के प्रसून जोशी होंगें। इस तरह लगभग 5 से 6 लोगों की टीम बनाई गई है। इसके साथ ही अयोध्या राजा बिमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र के पुत्र प्रख्यात साहित्यकार यतींद्र मोहन मिश्र भी प्लिंथ के चित्रण और स्वयं की सेवाएं निशुल्क देने की बात भी कही है।
इसके साथ ही चंपत राय ने यह भी बताया परकोटा यानी बाउंड्री वॉल में भी भगवान राम के जीवन प्रसंगों के 150 चित्र बनाए जाएंगे। वहीं इस काम में माहिर लोगों को जिम्मेदारियां भी सौंप दी गई हैं। उन्होंने यह भी बताया लोगों की राय है कि 2000 साल पहले जिस मटेरियल से अजंता एलोरा का चित्रण हुआ है वहीं उस माध्यम का प्रयोग किया जाए साथ ही इसके लिए इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के सचिव डॉ सच्चिदानंद जोशी को कोऑर्डिनेटर भी बनाया गया है। 

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश