Jansandesh online hindi news

यूपी में कोई नाई, पाल या राजभर दरोगा नहीं मिलेगा बस सिपाही ही मिलेगा: ओम प्रकाश राजभर

 | 
Image

डेस्क। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) के नेता और पूर्व मंत्री ओम प्रकाश राजभर इन दिनों फिर से सुर्खियों में आ गए हैं। राजभर इस समय मीडिया में अपने बयानों और गतिविधियों के लिए चर्चा में हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले वे समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव से नाराजगी के चलते भी खूब खबरों में बने रहे थे। 

इसके बाद सपा मुखिया ने उन्हें खुद से अलग कर दिया। जिसके बाद में वो वापस भाजपा की तरफ जाते दिखे। राष्ट्रपति चुनाव में उन्होंने एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मूर्मू को समर्थन दिया। इसके अलावा उनकी कई बार सीएम योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात हुई तो उनके भाजपा में जाने की कई तरह की अटकलें लगाई जाने लगी हैं। 

पर इनका विखंडन करते हुए अब वह फिर भाजपा के खिलाफ बयान देने लगे हैं जिसके बाद से किसी नई सियासत की अटकलें लगाई जा रहीं हैं।

गुरुवार को उन्होंने मीडिया से बात करते हुए यह भी कहा कि, “उत्तर प्रदेश 25 करोड़ की आबादी वाला एक राज्य है। पहले यह कृषि प्रधान देश हुआ करता था पर अब जाति प्रधान देश बन गया है। 

आगे उन्होंने कहा कि जिन जातियों को आजादी के बाद अब तक हिस्सा नहीं मिला, सरकारें बनाने वालों ने सरकारें बनाईं, उनका वोट अपने खेमे में डाला लेकिन आज मऊ जनपद में खोजेंगे तो नाई का, गोंड़ का, पाल का, प्रजापति का, चौहान का, केवट का, बिंद का, मल्लाह का, राजभर का बेटा किसी भी थाने पर दरोगा नहीं मिलेगा बस सिपाही नहीं मिलेगा। 

वो आगे बोले आज इनके विषय में इनको जागृत करने का काम इनको साथ जोड़ करके आगामी तैयारी में हम लोग लगे हुए हैं।”

अपनी सुरक्षा बढ़ाए जाने के सवाल पर ओम प्रकाश राजभर बोले, “नौ बार हमले हुए हैं, यह गृह विभाग की रिपोर्ट है। जो लोग नहीं चाहते हैं कि अतिपिछड़े और अति दलित को हिस्सा मिले, वे लोग ऐसे खुराफात करते रहते हैं।”

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।