Jansandesh online hindi news

UP Crime News : स्कूल के शौचालय की टंकी में मिला एक साल की बच्ची का शव

लखनऊ के जुगौर गांव के रहने वाले सुशील पाण्डेय ने अपनी एक साल की बच्ची अचानक कहीं गुम हो गयी जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट  सैरपुर थाने में दर्ज करवाई थी। पुलिस ने बच्ची की तलाश शुरू कर दी. जांच के दौरान बच्ची का शव जुगौर के राजकीय विद्यालय में शौचालय में पानी की टंकी के अंदर पड़ा मिला। बच्ची के पैर में ईंट बंधी हुई थी ताकि शव ऊपर ना आ सके। 
 | 
स्कूल के शौचालय की टंकी में मिला एक साल की बच्ची का शव

लखनऊ के जुगौर गांव के रहने वाले सुशील पाण्डेय ने अपनी एक साल की बच्ची अचानक कहीं गुम हो गयी जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट  सैरपुर थाने में दर्ज करवाई थी। पुलिस ने बच्ची की तलाश शुरू कर दी. जांच के दौरान बच्ची का शव जुगौर के राजकीय विद्यालय में शौचालय में पानी की टंकी के अंदर पड़ा मिला। बच्ची के पैर में ईंट बंधी हुई थी ताकि शव ऊपर ना आ सके। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह सैरपुर थाने में बच्ची की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने जब खोजबीन शुरू की तो पता चला कि दो नाबालिग लड़के बच्ची को अपने साथ स्कूल की तरफ लेकर गए थे। पुलिस ने जब स्कूल की तलाशी ली तो वहां टॉयलेट में पानी की टंकी के अंदर बच्ची का शव पड़ा मिला।

बच्ची का शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया। रिपोर्ट में सामने आया कि बच्ची की मौत डूबने से हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया, जिसके बाद बच्ची का अंतिम संस्कार करवाया गया।

सनसनीखेज मामला जुगौर गांव का है. बच्ची के पैर में ईंट बंधी हुई थी। परिजनों ने हत्या की हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है। 

साथ ही पता लगाया जा रहा है कि वे कौन नाबालिग लड़के हैं जो बच्ची को अपने साथ लेकर गए थे। सैरपुर थानाक्षेत्र में एक स्कूल के टॉयलेट में एक साल की बच्ची का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।