डेंगू की मार से यूपी बेहाल: सीएम योगी स्कूलों पर सख्त, लिया ये बड़ा फैसला

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. उत्तर प्रदेश

डेंगू की मार से यूपी बेहाल: सीएम योगी स्कूलों पर सख्त, लिया ये बड़ा फैसला

Image



डेस्क। Lucknow News: उत्तर प्रदेश में डेंगू के बढ़ते मामलों ने शासन-प्रशासन की चिंता को बढ़ा दिया है।  नए मामलों पर रोक लगाने के लिए सरकार लगातार लोगों को जागरूक भी कर रही है। वहीं इस बीच डेंगू की रोकथाम के लिए सरकार ने सुरक्षा नियम भी जारी किए हैं।
साथ ही 12वीं कक्षा तक के छात्रों को स्कूल परिसर में पूरी बाजू की शर्ट और पेंट पहनना अनिवार्य किया गया है। वहीं 17 नवंबर से सभी जिलों में कोविड की तर्ज पर डेडिकेटेड डेंगू अस्पताल भी शुरू हो जाएंगे। और घर-घर जाकर स्क्रीनिंग भी की जाएगी।
मुख्यमंत्री ने टीम-9 की बैठक में कहा है कि, बीते कुछ सप्ताह के बीच डेंगू और अन्य संचारी रोगों के दुष्प्रभाव में काफी इजाफा देखा जा रहा है। वहीं इनकी स्क्रीनिंग के लिए सर्विलांस को बेहतर बनाने की आवश्यकता है और इस काम के लिए आशा बहनों का सहयोग लिया जाएगा और घर-घर जाकर स्क्रीनिंग होगी।

डेडिकेटेड अस्पतालों में चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों की उपलब्धता और आसान से जांच की सुविधा उपलब्ध हो सके इसको सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने मंत्रियों को निर्देश देते हुए कहा कि, वे फील्ड में समय-समय पर स्थिति का जायजा भी लेते रहें साथ ही सुनिश्चित किया जाए कि अस्पताल में आने वाले हर मरीज को बेड मिले हैं यह नहीं। 
उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से सामने आ रहे नए मामलों में फिलहाल कमी दर्ज नहीं की गई है वहीं राजधानी लखनऊ में बीते 24 घंटे में 45 नए मरीज भी सामने आए हैं और एक मरीज की मौत से इलाके में हड़कंप भी मच गया है। साथ ही ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 2 हजार चार सौ बारह घरों और आसपास मच्छरजनित स्थितियों का भी सर्वेक्षण किया है। इसी के साथ ही घरों में लार्वा मिलने पर 14 लोगों को नोटिस जारी किया गया है और इस तरह पूरे राज्य में कुल डेंगू मरीजों की संख्या 11,000 के आंकड़े को पार कर चुकी है।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश