Jansandesh online hindi news

Akshay Patra News : अक्षय पात्र का राशन व भोजन बांटने का अभियान जारी

Akshay Patra News : अक्षयपात्र फाउंडेशन द्वारा राजधानी लखनऊ के साथ वाराणसी, मथुरा, अयोध्या, प्रयागराज, कानपुर, कन्नौज, बहराइच, गाज़ीपुर व सीतापुर के नैमिषारण्य सहित कई जिलों में राशन किट बांटा जा चुका है। कोरोना संकट काल में अक्षयपात्र फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष चंचलापति प्रभु के मार्गदर्शन में यह कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया था। उनके अनुसार अक्षयपात्र संस्था की कोशिश रहती है कि देश मे कही कोई भूखा न रहे।

 | 
Akshay Patra News : अक्षय पात्र का राशन व भोजन बांटने का अभियान जारी

लखनऊ। अक्षय पात्र का राशन व भोजन बांटने का अभियान जारी है। कोविड संक्रमण को देखते हुए अक्षय पात्र लखनऊ में जहां बलरामपुर हॉस्पिटल, केजीएमयू, सिविल, पीजीआई, लोहिया, लोकबंधु, आस्था व फातिमा अस्पताल के साथ कोविड सेंटर लालबाग में प्रतिदिन मरीजों के तीमारदार को भोजन उपलब्ध करा रही है वही वाराणसी के बीएचयू व कबीर चौरा हॉस्पिटल में भी अक्षय पात्र द्वारा भोजन वितरण किया जा रहा है। यही नहीं लखनऊ के चारबाग, केडी सिंह बाबू स्टेडियम व अटल बिहारी वाजपई इकाना स्टेडियम के साथ काकोरी व सरोजनी नगर ब्लॉक में भी गरीबों व श्रमिकों को भोजन दिया जा रहा है।

लखनऊ में प्रतिदिन 16500 लोगों को अक्षय पात्र भोजन करा रही है। वाराणसी के बीएचयू व कबीर चौरा अस्पताल में भी फिलहाल पांच-पांच सौ लोगों को भोजन दिया जा रहा है। सोमवार से यह संख्या दोनों अस्पतालों में एक-एक हजार हो जाएगी। इसी प्रकार गोरखपुर में पंद्रह सौ लोगों को रोज अक्षय पात्र द्वारा भोजन दिया जा रहा है।

भोजन के साथ राशन किट भी गरीबों में वितरित किए जा रहे हैं। लखनऊ में पिछले माह पांच हजार राशन किट बांटने के बाद इस माह जुलाई में भी 6 हजार पांच सौ राशन किट बांटे जाएंगे। वाराणसी में भी इस माह जुलाई में 11हजार राशन किट बांटे जाएंगे तथा 60 हजार  लोगों को भोजन वितरित किया जाएगा। अयोध्या में 562 व गोरखपुर में दो हजार राशन किट का वितरण गरीबों में किया जा चुका है।

अक्षयपात्र फाउंडेशन द्वारा राजधानी लखनऊ के साथ वाराणसी, मथुरा, अयोध्या, प्रयागराज, कानपुर, कन्नौज, बहराइच, गाज़ीपुर व सीतापुर के नैमिषारण्य सहित कई जिलों में राशन किट बांटा जा चुका है। कोरोना संकट काल में अक्षयपात्र फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष चंचलापति प्रभु के मार्गदर्शन में यह कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया था। उनके अनुसार अक्षयपात्र संस्था की कोशिश रहती है कि देश मे कही कोई भूखा न रहे। पिछले लॉकडाउन के समय मे अक्षयपात्र फाउंडेशन केवल उत्तर प्रदेश ही नहीं उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, दादरा और नगर हवेली, दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना व त्रिपुरा आदि में भी जरूरतमंदों को भोजन तथा राशन देने का काम किया। लॉकडाउन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए सरकार के राहत प्रयासों का समर्थन करते हुए इस फाउंडेशन द्वारा देश भर के विभिन्न स्थानों में दिहाड़ी मजदूर, औद्योगिक श्रमिक आदि बेघर लोगों को भोजन तथा राशन किट दिया गया। मार्च 20 से आज तक 14 करोड़ 50 लाख लोगों को अक्षय पात्र द्वारा भोजन दिया जा चुका है।