Jansandesh online hindi news

लव जिहादी आरिफ हाश्मी की अखिलेश-संजय सिंह संग तस्वीरें वायरल, Hindu बन कर पूर्व IAS की बेटी से की थी शादी

सोशल मीडिया पर आरिफ की कुछ तस्वीरें भी वायरल हुई हैं, जिसमें वो समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और AAP नेता सजय सिंह समेत अन्य बड़े नेताओं के साथ दिख रहा है। आरिफ हाशमी न सिर्फ पीड़िता का शरीरिक, मानसिक व आर्थिक शोषण करता था, बल्कि वो उनके होटल के फंड्स भी हड़प लिया करता था। साथ ही वो मौत की धमकी भी देता था। पीड़िता का कहना है कि उन्होंने बहुत हिम्मत जुटा कर आगरा सदर थाने में FIR दर्ज कराई।
 | 
लव जिहादी आरिफ हाश्मी की अखिलेश-संजय सिंह संग तस्वीरें वायरल, Hindu बन कर पूर्व IAS की बेटी से की थी शादी

आगरा में पूर्व IAS अधिकारी की विवाहित बेटी से 2010 में राजधानी लखनऊ में ही स्थित अलीगंज के आर्य समाज मंदिर में शादी की थी। यहाँ दस्तावेज में आरिफ ने अपना नाम आदित्य आर्य लिखवाया था। आरिफ ने अजमेर ले जाकर पीड़िता का इस्लामी धर्मांतरण करवाया था।  बेटी इस्लामी धर्मांतरण का शिकार हो गईं।  

इस मामले के सामने आने के बाद FIR दर्ज हुई और आरिफ हाशमी नाम का आरोपित जेल भेजा गया। आरिफ हाश्मी ने आदित्य बन कर छद्म हिन्दू नाम का इस्तेमाल किया, ताकि वो पीड़िता को अपने जाल में फँसा सके। पीड़िता होटल भी चलाती हैं। आरिफ हाशमी के जेल में जाने के बावजूद वो डर के साए में जी रही हैं, क्योंकि उनका मानना है कि वो एक खतरनाक व्यक्ति है।

सोशल मीडिया पर आरिफ की कुछ तस्वीरें भी वायरल हुई हैं, जिसमें वो समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और AAP नेता सजय सिंह समेत अन्य बड़े नेताओं के साथ दिख रहा है। आरिफ हाशमी न सिर्फ पीड़िता का शरीरिक, मानसिक व आर्थिक शोषण करता था, बल्कि वो उनके होटल के फंड्स भी हड़प लिया करता था। साथ ही वो मौत की धमकी भी देता था। पीड़िता का कहना है कि उन्होंने बहुत हिम्मत जुटा कर आगरा सदर थाने में FIR दर्ज कराई।

पीड़िता ने सोमवार (जुलाई 5, 2021) को कोर्ट में कलमबंद बयान दर्ज कराए। सदर इंस्पेक्टर अजय कौशल ने जानकारी दी है कि पुलिस ने पीड़िता के बयान का अवलोकन कर लिया है। होटल का संचालन करने वाली पीड़िता ने आरिफ हाशमी को बेनकाब करने के लिए कमरे में एक कैमरा छिपाया था। जब वो आगरा से बाहर जाती थीं तो आरिफ अय्याशी के लिए पेशेवर युवतियों को बुलाया करता था।

इस कैमरे में न सिर्फ उनकी इस अय्याशी कैद हो गई, बल्कि पीड़िता के साथ वो जो दुर्व्यवहार कर रहा था वो भी कैद हो गया। पुलिस का कहना है कि पीड़िता ने कुछ फोटोग्राफ्स जमा किए हैं, जो डराने वाले हैं। उनकी बुरी तरह पिटाई की जाती थी। उनका चेहरा सूज गया था। एक फोटो में उनके होठों से खून बह रहा है। अब सबूतों के मिलने के बाद उस पर चौतरफा शिकंजा कसा जा रहा है। आरिफ हाशमी लखनऊ के राजाजी पुरम का निवासी है।

आरोपित के मोबाइल फोन से भी पुलिस को कुछ फर्जी पत्र और दस्तावेज मिले हैं। इसका इस्तेमाल वो अधिकारियों पर रौब जमाने के लिए करता था और अपनी पहुँच दिखाता था। लोगों को फँसाने के लिए उसने ये सब फोन में सेव कर रखा था। पुलिस होटल के कर्मचारियों का भी बयान दर्ज कर रही है, जहाँ वो रहता था। पीड़िता को टॉर्चर किए जाने के सम्बन्ध में गवाहों के बयान दर्ज किए जाएँगे। आरोपित रसूख वाला है, इसीलिए पीड़िता डरी हुई हैं।

पीड़िता ने पुलिस को बताया था कि हाशमी ने एक बार उनकी टीका लगाते हुए फोटो खिंचवा ली और बाद में इसी फोटो के दम पर वह पीड़िता को ब्लैकमेल करने लगा। पीड़िता के अनुसार, इस फोटो में ऐसा प्रतीत होता है जैसे हाशमी उसकी माँग भर रहा है। इसके बाद हाशमी ने पीड़िता पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया, उसके परिवार को बदनाम करने का भय दिखाकर पीड़िता का यौन उत्पीड़न किया और अप्राकृतिक संबंध भी बनाए।