Jansandesh online hindi news

एटीएस स्पेशल कोर्ट ने आठ आरोपियों के खिलाफ आईपीसी 121a, 123 बढ़ाने का आदेश दिया

 | 
एटीएस स्पेशल कोर्ट ने आठ आरोपियों के खिलाफ आईपीसी 121a, 123 बढ़ाने का आदेश दिया

लखनऊ

अवैध धर्म परिवर्तन (Illegal religious Conversion) मामले में गिरफ्तार 8 आरोपियों के खिलाफ देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने, युद्ध करने का प्रयास करने, सरकार को आतंकित करने के प्रयास करने और युद्ध की सोच को मजबूत बनाने के प्रयास की धाराएं कोर्ट के आदेश के बाद बढ़ाई गई हैं. उत्तर प्रदेश एटीएस की ओर से यह धाराएं बढ़ाने की अर्जी दी गई थी. गुरुवार को अर्जी पर सुनवाई के बाद एटीएस स्पेशल कोर्ट ने आईपीसी की धारा 121a और 123 बढ़ाने का आदेश दिया.

एटीएस स्पेशल कोर्ट ने आठ आरोपियों को 14 सितंबर को जेल से कोर्ट में तलब करने का आदेश भी दिया. इससे पहले एटीएस की ओर से आरोपियों के खिलाफ धाराएं बढ़ाने की अर्ज़ी सीजेएम कोर्ट में दी गई थी. कोर्ट में एटीएस की ओर से दी गई अर्ज़ी में कहा गया था कि विवेचना के दौरान स्पष्ट हुआ है कि इस गिरोह का काम सिर्फ अवैध तऱीके से धर्म परिवर्तन कराना नहीं बल्कि ये गिरोह धर्म परिवर्तन के जरिए भारत का जनसंख्या संतुलन बिगाड़ कर विभिन्न धार्मिक वर्गों के बीच वैमनस्यता पैदा कर देश की एकता, अखंडता और संप्रभुता को चुनौती देना चाहता था.

सीजेएम कोर्ट ने पाया कि धारा 121 और 123 के मामले सुनने का क्षेत्राधिकार उनके पास नहीं है. लिहाज़ा मामला एटीएस स्पेशल कोर्ट में भेज दिया गया, जहां सुनवाई के बाद आरोपी उमर गौतम, मुफ़्ती जहांगीर कासमी, इरफान शेख, सलाउद्दीन जैनुद्दीन शेख, प्रसाद रामेश्वर कावरे उर्फ एडम, अर्सलान उर्फ भूप्रिय बंदो, कौसर आलम और फ़राज़ शाह पर दर्ज मुक़दमे में आईपीसी 121a और 123 को बढ़ाने का आदेश पारित हुआ. इससे पहले इन आरोपियों पर आईपीसी की धारा 417,120बी,153ए,153बी, 295ए, 298 और यूपी विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन की धाराओं में एफआईआर दर्ज हुई थी.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।