Jansandesh online hindi news

ब्लॉक प्रमुख पद : नामांकन के दौरान हुए बवाल सुरक्षा व्यवस्था की खुली पोल

 | 
ब्लॉक प्रमुख पद : नामांकन के दौरान हुए बवाल सुरक्षा व्यवस्था की खुली पोल

उन्नाव।

जनपद के कई ब्लाकों में ब्लॉक प्रमुख पद के उम्मीदवारों के साथ बवाल की घटनाएं सामने आई कई जगह लोगों ने आरोप लगाया कि उन्हें जबरन पर्चा लेने से रोका गया।जनाकारी के अनुसार जनपद में ब्लॉक प्रमुख पद के नामांकन के दौरान नवाबगंज और असोहा में बवाल हो गया। नवाबगंज में भाजपा समर्थित प्रत्याशी के समर्थकों ने निर्दलीय उम्मीदवार का पर्चा फाड़ दिया। इस पर पुलिस ने लाठियां पटक कर समर्थकों को खदेड़ा।सूचना मिलने पर डीएम और एसपी भी पहुंचे। उन्होंने पर्चा फाड़ने वालों पर कार्रवाई करने की बात कही। वहीं असोहा में सपा समर्थित प्रत्याशी को नामांकन कराने से रोका गया। जिस पर एमएलसी सुनील साजन समेत अन्य सपा पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और इसका विरोध जताया। जिले के पुरवा ब्लॉक के प्रमुख पद के दावेदार के बेटे पर बुधवार देर रात हमला हो गया। हमले में उनके व कार चालक के साथ मारपीट के बाद लूट भी की गई।

पीडि़त ने ब्लॉक से सपा उम्मीदवार के खिलाफ पुरवा कोतवाली में खिलाफ तहरीर दी।गुरुवार की सुबह पुलिस ने तहरीर के आधार पर आठ नामजद व तीन अज्ञात के विरुद्ध लूट व जानलेवा हमले की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की । भाजपा ने सतीश चौधरी को ब्लॉक पुरवा से अपना प्रत्याशी बनाया है। इस पद के लिए नामांकन से एक दिन पहले भाजपा प्रत्याशी के बेटे दीपांशु ने सपा उम्मीदवार रामदेवी व उनके समर्थकों के खिलाफ बुधवार देररात जानलेवा हमला कर 40 ग्राम सोने की चेन व 53 हजार रुपये लूटने का आरोप लगा पुरवा कोतवाली में तहरीर दी थी। दीपांशु ने बताया कि देर रात वह घर लौट रहे थे तभी धिरजीखेड़ा नहर पुल के पास सपा प्रत्याशी रामदेवी सोनकर उनके देवर सपा नेता सर्वेश सोनकर व उनके समर्थकों ने जानलेवा हमले की नियति से चालक पर फायर कर दिया और जमकर मारपीट की। आरोप है कि इस दौरान उन लोगों ने सोने की चेन व 53 हजार रुपये लूट लिए। तहरीर के आधार पर पुलिस ने गुरुवार की सुबह आठ नामजद व तीन अज्ञात के विरुद्ध लूट व जानलेवा हमले की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है

बीघापुर में ब्लॉक प्रमुख पद पर कुल 4 प्रत्याशियों ने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया है । जिनमें भाजपा द्वारा घोषित प्रत्याशी पुष्पा देवी , सपा से मीना देवी व निर्दलीय प्रत्याशियों में श्रीकांती व रेखा ने अपने नामांकन दाखिल किए ।सपा प्रत्याशी के साथ पूर्व विधायक कृपा शंकर सिंह व जिला अध्यक्ष धर्मेन्द्र यादव मौजूद रहे वहीं भाजपा प्रत्याशी के साथ राजकिशोर रावत व जिला महामंत्री आशीष बाजपेई मौजूद रहे सपा व भाजपा प्रत्याशी के समर्थकों का जहाँ गेट के बाहर जमावड़ा रहा वहीं पूर्व प्रमुख रामचंद्र सिंह पप्पू भी अपने निर्दल प्रत्याशी के नामांकन में समर्थकों के साथ पहुँचे । जनपद के फतेहपुर चौरासी में ब्लॉक प्रमुख निर्वाचन के तहत आज क्षेत्र पंचायत मुख्यालय पर आज दो प्रत्याशियों ने अपना नामांकन दाखिल किया।

अराजक तत्वों द्वारा माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई परन्तु पुलिस की सक्रियता के चलते ब्यवस्था शान्ति पूर्ण बनी रही।फतेहपुर चौरासी विकास खण्ड का ब्लॉक प्रमुख बनने के लिये आज भारतीय जनता पार्टी समर्थित मनोज निषाद भारी भरकम भीड़ के साथ नामांकन कराने पहुंचे परन्तु कोविड प्रोटोकॉल के कारण केवल प्रस्तावकों के साथ ही नामांकन कक्ष में जा सके, इस दौरान क्षेत्रीय विधायक श्रीकान्त कटियार,अवधेश कटियार, संतोष मिश्रा, महेश दीक्षित, अनिल सुक्ला, नारेंद्र सिंह, अवधेश लोधी सहित भाजपा के कई नेता एवं तमाम कार्यकर्ता क्षेत्र पंचायत सदस्यों के साथ उपस्थित रहे। वहीं दोपहर बाद सपा नेता संजीव त्रिवेदी के सरंक्षण से नामांकन कराने पहुंचे दावेदार शिवशंकर निषाद के नामांकन पत्र को सपा नेता संजीव त्रिवेदी के हाथ से छीनकर अराजक तत्वों द्वारा फाड़ने की कोशिश की गई।कुछ देर बाद पहुचे पूर्व विधायक बदलू खां एवं सपा नेता डॉक्टर मुन्ना अलवी ने नामांकन पत्र छीनने की घटना का विरोध किया।विकास खण्ड कार्यालय पर मौजूद क्षेत्राधिकारी सफीपुर बीनू सिंह एवं प्रभारी निरीक्षक जावेद अख्तर की सक्रियता से बिगड़ने वाली ब्यवस्था सुधार ली गई। काफी जद्दोजहद के बाद सपा नेताओं द्वारा समर्थित शिव शंकर निषाद ने ब्लॉक प्रमुख पद पर अपना नामांकन कराया। रिटर्निग ऑफिसर ने बताया कि दो प्रत्याशियों ने नामांकन कराया है, 9 जुलाई को नाम वापस लिया जा सकता है। जनपद के औरास में बीजेपी के प्रत्याशी भूपेंद्र सिंह की दबंगई से ग्रामो में बीडीसी चुनाव जीते हुए लोगो मे दहशत का माहौल छाया हुआ है।

आपको बता दें ब्लाक औरास के ब्लाक प्रमुख प्रत्याशी भूपेंद्र सिंह क्षेत्र के बीडीसी को जबरन दबंगई के बल पर उठाकर अपने घरों में कैद कर रहे हैं ।औरास थाना क्षेत्र के ग्राम ताला सराय के बीडीसी राजकुमार पत्नी पूनम को जबरन घर से उठा ले गए और बीडीसी राजकुमार को बेरहमी से मारा और पीटा राजकुमार को मारते हुए गाड़ी में बैठाया और जबरदस्ती उसको उठा ले गये ब्लाक प्रमुख पद पर लड़ने वाले भूपेंद्र सिंह ने ताला सराय के बीडीसी को जान से मारने की धमकी दी । परिजनों ने बताया कि तीन बार फायरिंग भी किया।राजकुमार ने थाने हसनगंज में जाकर ब्लाक प्रमुख पद पर लड़ने वाले भूपेंद्र प्रताप सिंह पर जबरन उठाने और जान से मारने की धमकी देने और मारने पीटने का आरोप लगाया और हसनगंज थाने में जाकर प्रार्थना पत्र दिया। जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया।पीड़ित बीडीसी राजकुमार ने कहा ऐसे दबंगों के खिलाफ तुरंत कार्यवाही की जाए और भूपेंद्र प्रताप सिंह को तुरंत गिरफ्तार किया जाए।शांति देवी पति सूरज पाल बीडीसी निवासी टिकराबाऊ ने आरोप लगाया कि भूपेंद्र प्रताप सिंह पुत्र ध्यानेंद्र सिंह निवासी गेरूवा थाना औरास ने दिनांक 05/07/2021 समय करीब 6 बजे शाम को अपने तमाम साथियों के साथ मारपीट की तथा पति को जबरदस्ती उठा ले गये तथा अब तक बन्धक बनाये हुए है और जान से मारने की धमकी दी।पीड़िता ने बताया कि वह थाना औरास में 3 दिन से बैठी है पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है ।औरास थाना क्षेत्र के गयाबानपुरराई के बीडीसी का अपहरण हो गया है पिता ने पूरी आपबीती बताई और कहा कि कोई सुनवाई न हो रही है।पूर्व जिला पंचायत सदस्य ने भी औरास ब्लॉक प्रमुख पद के उम्मीदवार भूपेंद्र सिंह की खुलेआम गुंडई की बताई आपबीती बताते हुए थाने में शिकायती पत्र दिया।