Jansandesh online hindi news

CM योगी ने 60 हजार युवाओं को स्मार्टफोन-टैबलेट वितरण के दौरान अखिलेश पर साधा निशाना, बोले- 12 बजे सोकर उठने वाले युवा नहीं, टायर्ड और रिटायर्ड

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी और पंडित मदन मोहन मालवीय की जयंती पर लखनऊ में इसकी शुरुआत करते हुए 60 हजार युवाओं को स्मार्टफोन-टैबलेट दिए गए। कविता की पंक्तियों 'नए युग का सृजन युवकों तुम्हारे हाथ में है...' के माध्यम से युवाओं का प्रोत्साहन करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महापुरुषों के महिमागान के साथ युवाओं को उनकी क्षमता-शक्ति का स्मरण कराया।
 | 
CM योगी ने 60 हजार युवाओं को स्मार्टफोन-टैबलेट वितरण के दौरान अखिलेश पर साधा निशाना, बोले- 12 बजे सोकर उठने वाले युवा नहीं, टायर्ड और रिटायर्ड

लखनऊ । पिछले चुनाव के लोक कल्याण संकल्प पत्र की महत्वाकांक्षी घोषणा को पूरा करते हुए योगी सरकार प्रदेश के एक करोड़ युवाओं को निश्शुल्क स्मार्टफोन और टैबलेट दे रही है। भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी और पंडित मदन मोहन मालवीय की जयंती पर लखनऊ में इसकी शुरुआत करते हुए 60 हजार युवाओं को स्मार्टफोन-टैबलेट दिए गए। कविता की पंक्तियों 'नए युग का सृजन युवकों तुम्हारे हाथ में है...' के माध्यम से युवाओं का प्रोत्साहन करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महापुरुषों के महिमागान के साथ युवाओं को उनकी क्षमता-शक्ति का स्मरण कराया। प्रदेश को नंबर एक बनाने में सहयोग मांगा और सपा मुखिया अखिलेश यादव का नाम लिए बिना तंज कसा कि बारह बजे सोकर उठने वाले, वैक्सीन पर गुमराह करने वाले युवा नहीं, वह टायर्ड और रिटायर्ड हैं। 

CM योगी ने 60 हजार युवाओं को स्मार्टफोन-टैबलेट वितरण के दौरान अखिलेश पर साधा निशाना, बोले- 12 बजे सोकर उठने वाले युवा नहीं, टायर्ड और रिटायर्ड

राजधानी के अटल बिहारी बाजपेयी इकाना स्टेडियम में शनिवार को आयोजित प्रदेशस्तरीय कार्यक्रम में सभी जिलाें से युवा आए थे। एक करोड़ युवाओं को टैबलेट-स्मार्टफोन वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ कुछ युवाओं को टैबलेट-स्मार्टफोन अपने हाथ से देकर मुख्यमंत्री ने किया। यहां कुल 60 युवाओं को इनका वितरण किया गया। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय की स्थापना करने वाले पंडित मदन मोहन मालवीय के व्यक्तित्व-कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए योगी ने कोरोना काल के दौरान कोटा से प्रतियोगी छात्रों को वापस लाए जाने का प्रसंग याद दिलाया। कहा कि तभी तय कर लिया था कि प्रदेश के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए प्रदेश के युवाओं को बाहर नहीं जाना पड़ेगा। उसी दौरान तमाम गांवों में युवाओं से बातचीत के दौरान मालूम हुआ कि स्मार्टफोन, टैबलेट या इंटरनेट सुविधा न होने की वजह से छात्र आनलाइन क्लास नहीं ले पाए। यही सोचकर एक करोड़ युवाओं को स्मार्टफोन और टैबलेट दिए जा रहे हैं। यह सिर्फ स्नातक और परास्तनक के छात्र ही नहीं, बल्कि दस हजार प्रतियोगी छात्रों को भी दिए जा रहे हैं। 


सोच ईमानदार तो काम दमदार का नारा दोहराते हुए योगी ने विपक्ष को आड़े हाथों लिया। कहा कि 2017 से पहले नौकरियां निकलती थीं तो एक खानदान वसूली के लिए निकल पड़ता था, जबकि आज कोई युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ करेगा तो उसकी जगह जेल में होगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ईमानदार सोच को यूपी में दमदारी से लागू किया है। बिना नाम लिए अखिलेश यादव पर हमलावर सीएम ने कहा कि बारह बजे सोकर उठने वाले, वैक्सीन के नाम पर लोगों को गुमराह करने वाले युवा नहीं, टायर्ड और रिटायर्ड हैं। इनसे कोई उम्मीद मत कीजिए। प्रभु श्री राम, कृष्ण और बुद्ध से लेकर वीर सावरकार सहित तमाम क्रांतिकारियाें और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई जैसे कारपोरेट जगत के दिग्गजों का उल्लेख कर युवाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। साथ ही कहा कि आगे बढ़ें और उत्तर प्रदेश को नंबर एक बनाने में जुटें।

एक सप्ताह में हर कमिश्नरी में बंटेंगे स्मार्टफोन और टैबलेटः मुख्यमंत्री ने कहा कि यह केवल स्मार्टफोन और टैबलेट नहीं है। इसके साथ आपको फ्री में डिजिटल एक्सेस की सुविधा भी मिलने जा रही है। मुफ्त में कंटेंट उपलब्ध होंगे। अब हर कमिश्नरी में इस तरह के कार्यक्रम कर स्मार्टफोन और टैबलेट बांटे जाएंगे। डिजिटल क्रांति को गांव-गांव पहुंचाया जाएगा। उन्होंने डिजी शक्ति पोर्टल अौर डिजी शक्ति अध्ययन एप भी लांच किया।

ओलंपियन चानू को डेढ़ करोड़ सम्मान राशिः मुख्यमंत्री ने ओलिंपिक में पदक जीतने वाले अन्य खिलाड़ियाें की तरह ही टोक्यो ओलिंपिक में पदक जीतने वाली भारोत्तोलक मणिपुर निवासी मीरा बाई चानू को सम्मानित करते हुए डेढ़ करोड़ रुपये सम्मान राशि भेंट की। उनके कोच विजय कुमार शर्मा को भी दस लाख रुपये सम्मान राशि प्रदान की।

धर्मेंद्र प्रधान बोले, मोदी-योगी के नेतृत्व में यूपी बनेगा नंबर एक: केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश में एक मानक खड़ा किया है। पहले की सरकारों ने भी कार्यक्रम किए, लेकिन योगी ने भव्य कार्यक्रम किया है। कोरोना काल में मोबाइल, टैबलेट और लैपटाप का बोलबाला बढ़ गया, लेकिन यह सुविधा न होने से पचास फीसद युवा आनलाइन क्लास से नहीं जुड़ सके। योगी एक करोड़ युवाओं को स्मार्टफोन और टैबलेट दे रहे हैं, जबकि भारत सरकार गांव-गांव तक इंटरनेट नेटवर्क का जाल बिछाने जा रही है। उन्होंने कहा कि मोदी-योगी के नेतृत्व में यूपी नंबर एक बनेगा। 

महाना बोले, पूरे नहीं होंगे मुंगेरीलाल के सपनेः औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने बिना नाम लिए सपा मुखिया पर तंज कसा कि मुंगेरीलाल के सपने अब पूरे नहीं होंगे। योगी की भ्रष्टाचार और अपराध पर जीरो टालरेंस की नीति से विकास और विश्वास का माहौल बना है। 'योगी फार यूथ' का नारा देते हुए महाना ने युवाओं को प्रोत्साहित किया कि मेहनत कर यूपी के ब्रांड एंबेसडर बनें। मंच पर नगर विकास मंत्री अाशुतोष टंडन, समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री, प्राविधिक शिक्षा मंत्री जितिन प्रसाद, जलशक्ति मंत्री डा. महेंद्र सिंह, महिला एवं बाल विकास मंत्री स्वाति सिंह, बेसिक शिक्षा मंत्री सतीशचंद द्विवेदी, राज्यमंत्री धर्मवीर प्रजापति, अजीत पाल और लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया भी थीं।

 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।