Jansandesh online hindi news

दीपोत्सव : एक साथ जले 21000 हजार दिए तो जगमग हो उठा बुढ़िया माई मंदिर का छठ घाट

नगरपालिका परिषद अध्यक्ष विनय जायसवाल ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या दीपोत्सव कार्यक्रम से प्रेरणा लेकर इस तरह का दीपोत्सव आयोजन पडरौना नगर में भी कराने का स्वप्न देखा था। इसके बाद दूसरे वर्ष दीपोत्सव का आयोजन किया गया है।छठ घाट के लिए शासन से झील तालाब पोखर संरक्षण योजना के तहत नगरपालिका परिषद द्वारा विकसित कराने का कार्य कर रही है।

 | 
एक साथ जले 21000 हजार दिए तो जगमग हो उठा बुढ़िया माई मंदिर का छठ घाट

By UPENDRA KUSHWAHA

पडरौना। नगरपालिका परिषद पडरौना के तरफ से मंगलवार को धनतेरस के अवसर पर नगर के मेन बाजार उत्तरी मानस कुंज कॉलोनी स्थित श्री बुढ़िया माई मंदिर छठ घाट पर देर शाम को दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इसमें एक साथ 21000 दीप जले तो क्षेत्र पूरी तरह से जगमग हो उठा। नगरपालिका परिषद अध्यक्ष विनय जायसवाल ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या दीपोत्सव कार्यक्रम से प्रेरणा लेकर इस तरह का दीपोत्सव आयोजन पडरौना नगर में भी कराने का स्वप्न देखा था।

इसके बाद दूसरे वर्ष दीपोत्सव का आयोजन किया गया है। छठ घाट के लिए शासन से झील तालाब पोखर संरक्षण योजना के तहत नगरपालिका परिषद द्वारा विकसित कराने का कार्य कर रही है। नपा द्वारा किड्स पार्क और पर्यटन के रूप में विकसित किया जा रहा है। आने वाले समय में नगर के इस हिस्से को सांस्कृतिक के रूप में विकसित करने की योजना है।

इस दौरान अध्यक्ष प्रतिनिधि मनीष जायसवाल, सुनीता देवी,उर्मिला देवी,अनिता जायसवाल,प्रियंका कुमारी, प्रमिला देवी,सरोज देवी,सविता जायसवाल,सुरेश गुप्ता,मनोज चौधरी,रबि सिन्हा,चंचल चौबे, अनूप विश्वकर्मा,श्याम साहा, नीरज मिश्रा,भरत चौधरी,राजेश जायसवाल,विनय मद्धेशिया, अनूप गौड़,सन्तोष चौहान,आदर्श जायसवाल,आनंद रावत,मनीष सिंह,धर्मेंद्र मद्धेशिया,विनय पांडेय,रवि शर्मा,साधु मद्धेशिया, सचिन शाह,अमित श्रीवास्तव, अंबे तिवारी,विनय कुमार,बृजेश वर्मा,गौतम गुप्ता,रोहन विश्वकर्मा, सागर पांडेय,सत्येन्द्र यादव आदि हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।