Jansandesh online hindi news

आगामी त्योहारों को लेकर डीएम व एसपी ने कानून व्यवस्था की किया बैठक

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन
 | 
फोटो

सौहार्दपूर्ण व भाई चारे के साथ मनाएं त्यौहार......डीएम।

त्योहारों में सांप्रदायिक सौहार्द तथा कोविड-19 गाइडलाइन का पालन अनिवार्य।

*दुर्गा पूजा पंडाल, रामलीला मंच व जुलूस इत्यादि के आयोजन से पूर्व लेनी होगी अनुमति।*

*सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर रहेगी कड़ी नजर।*

*अमेठी 05 अक्टूबर 2021,* आगामी त्यौहारों नवरात्रि, दुर्गा पूजा, दशहरा, बारावफात व अन्य त्योहारों को लेकर जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार व पुलिस अधीक्षक श्री दिनेश सिंह ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों, विभिन्न संप्रदाय के धर्मगुरुओं व संभ्रांत नागरिकों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी त्योहारों में कोविड-19 महामारी को लेकर शासन द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन अनिवार्य होगा, साथ ही दुर्गा पंडाल, विजयदशमी, रामलीला मंच व जूलूस के आयोजन से पूर्व प्रशासन की अनुमति लेना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि सभी त्योहार पारंपरिक तरीके से परंतु कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करते हुए त्यौहार मनाए। बैठक में जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि दुर्गा पूजा पंडाल व रामलीला मंच के स्थापना की अनुमति प्रदान करने से पूर्व आयोजकों द्वारा यह सुनिश्चित करा लें की दुर्गा पूजा पंडाल व रामलीला मंच की स्थापना से सार्वजनिक आवागमन प्रभावित ना हो, मूर्तियों की स्थापना पारंपरिक परंतु खाली स्थान पर की जाए उनका आकार यथासंभव छोटा रखा जाए तथा मैदान की क्षमता से अधिक लोग ना रहे, मूर्तियों के विसर्जन में यथासंभव छोटे वाहनों का प्रयोग किया जाए मूर्ति विसर्जन कार्यक्रम में न्यूनतम व्यक्ति ही शामिल हो, विसर्जन के रूट प्लान, विसर्जन स्थलों का चिन्हांकन, अधिकतम व्यक्तियों की संख्या का निर्धारण, शारीरिक दूरी का पालन जैसे बिंदुओं की पूर्व में ही योजना बना ली जाए तथा इसे दृढ़ता से लागू किया जाए, मूर्ति विसर्जन आदि के समय भीड़ निर्धारित सीमा से अधिक ना हो तथा शारीरिक दूरी और मास्क पहनने के मानकों का पालन अवश्य किया जाए, नवरात्रि एवं विजयदशमी, रामलीला के शांतिपूर्ण संपादन हेतु संवेदनशील स्थलों पर समुचित सुरक्षा व्यवस्था तथा विशेष सतर्कता बरती जाए ऐसे स्थलों जहां पर अधिक संख्या में लोग एकत्र होते हैं वहां पर भी विशेष सतर्कता तथा ऐसे स्थानों पर संभावित घटनाओं को पूर्वानुमान लगाया जाना व किसी घटना के घटित होने पर तत्परता से प्रभावी कार्यवाही की जाए, संवेदनशील/सांप्रदायिक एवं कंटेनमेंट जोन में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की जाए, किसी भी धार्मिक स्थल पर क्षमता से अधिक लोगों की भीड़ एकत्र ना होने पाए यह सुनिश्चित किया जाए, त्योहारों पर सार्वजनिक स्थल यथा बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन और संवेदनशील स्थान/धार्मिक स्थल पर यथावश्यक व्यवस्थाएं/चेकिंग इत्यादि कराई जाए, सघन जांच एवं तलाशी की व्यवस्था के लिए स्वान दल, आतंकवादी निरोधक दस्ता एवं बम निरोधक दल की तैनाती सुनिश्चित की जाए, यह भी सुनिश्चित किया जाए कि यातायात कदापि बाधित ना हो एवं बैरियर एवं पुलिस चेकपोस्ट लगातार संदिग्ध वाहनों की चेकिंग कराई जाए, मोटर वाहन अधिनियम के नियमों का सख्ती से पालन सुनिश्चित कराया जाए, जन सुविधाएं यथा बिजली, पेयजल एवं साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए, आकस्मिकता के दृष्टिगत सभी सरकारी अस्पतालों को तैयार हालत में रखा जाए एवं डॉक्टर तथा पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी राउंड-द-क्लाक लगाई जाए, असामाजिक तत्व एवं अफवाह फैलाने वालों पर विशेष ध्यान दिया जाए सोशल मीडिया की नियमित मॉनिटरिंग की जाए एवं कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट संज्ञान में आते ही तत्काल ब्लॉक करते हुए प्रभावी कार्यवाही की जाएगी, इसके साथ ही धारा 144 का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए, सार्वजनिक स्थानों पर किसी भी दशा में शस्त्रों का प्रदर्शन ना हो एवं अवैध शस्त्रों को लेकर चलने वालों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाए। बैठक में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अराजक तत्वों को चिन्हित कर उन पर कड़ी कार्यवाही करें, साथ ही सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर बनाए रखें, अफवाह फैलाने वालों पर तत्काल निरोधात्मक कार्यवाही करें। बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व एसपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक वीके पांडे, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष दुबे, समस्त उपजिलाधिकारी/पुलिस क्षेत्राधिकारी/थानाध्यक्ष, विभिन्न संप्रदाय के धर्मगुरु, संभ्रांत नागरिक व अन्य संबंधित मौजूद रहे।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।